• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • झांसी के सबत खालिदी के रिकॉर्डस से बुंदेलखंड का विश्व भर में लहराया परचम

झांसी के सबत खालिदी के रिकॉर्डस से बुंदेलखंड का विश्व भर में लहराया परचम

कुलपति

कुलपति प्रो जे वी वैशंपायन से सम्मान प्राप्त करते सबत खालिदी

ऐसे अनोखे कार्य किए कि उन्होंने एक नहीं पूरे 6 छह विश्व रिकॉर्ड बना डाले. वह बचपन से ही कला के क्षेत्र में निपुण रहे हैं और कहते हैं कि कला इनको परिवार से ही विरासत में मिली है, वह खुद को बेहद भाग्यशाली मानते हैं कि उनको कला को आगे बढ़ाने का मौका मिला है.

  • Share this:

    झांसी शहर के रहने वाले सबत खालिदी ने बहुत ही कम उम्र में कई रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करा कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है.  ऐसे अनोखे कार्य किए कि उन्होंने एक नहीं पूरे 6 छह विश्व रिकॉर्ड बना डाले. वह बचपन से ही कला के क्षेत्र में निपुण रहे हैं और कहते हैं कि कला इनको परिवार से ही विरासत में मिली है, वह खुद को बेहद भाग्यशाली मानते हैं कि उनको कला को आगे बढ़ाने का मौका मिला है.

    विविध प्रतिभाओं के धनी हैं सबत

    सबत अपनी रचनात्मक कला से बहुत छोटी छोटी मूर्तियां बना चुके हैं, लेकिन इस बार इन्होने एक सेंटीमीटर से भी कम नाप की 27 से ज्यादा पेंटिंग बनाकर इंडिया और एशिया बुक आफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा कर कीर्तिमान स्थापित किया है.होनहार सबत ने चने की दाल पर तो मानो जादू ही कर दिया हो, इन्होने बिना किसी लेंस की मदद से 3 मिनट से भी कम समय में चने की दाल पर मिनिएचर पेंटिंग बनाई.इस तरह से कुल 25 से भी ज्यादा पेंटिंग बनाकर अनेकों रिकॉर्ड अपने नाम किए.चने की दाल पर इन्होने अनेकों सामाजिक मुद्दों के चित्र जैसे कि जाल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, धूम्रपान निषेध जैसे विभिन्न चित्र भी बनाएं हैं. ये अपनी कला साधना के माध्यम से समाज मे एक बड़े बदलाव को लाने की चाह रखते हैं.

    कई रिकॉर्ड कर चुके हैं अपने नाम

    नन्हें चित्रकार सबत ने दो बार एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड, इंडिया बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, वर्ल्ड रिकॉर्ड ऑफ इंडिया, इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड आदि की खिताब हासिल किए हैं और बहुत जल्द ही गिनीज बुक ऑफ कार्ड तथा लिमका बुक आफ रिकॉर्ड भी अपने नाम करना चाहते हैं. इन्हें अपने माता-पिता और बड़े भाई का पूरा सहयोग मिलता है.सबत ने ना सिर्फ झांसी का बल्कि पूरे बुंदेलखंड का विश्व भर में परचम लहराया है और कहते हैं कि कला ही मेरी साधना है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज