Home /News /uttar-pradesh /

kam ki khabar fake websites in the name of bundelkhand university ke naam par farzi admission

बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के नाम पर हो रहे फर्जी एडमिशन, नकली वेबसाइट्स से रहें सावधान

बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के नाम पर फर्जी वेबसाइट बनाकर एडमिशन का गोरखधंधा सामने आया.

बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के नाम पर फर्जी वेबसाइट बनाकर एडमिशन का गोरखधंधा सामने आया.

Kam Ki Khabar: झांसी के बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के नाम पर फर्जी वेबसाइट बनाकर एडमिशन का गोरखधंधा चल रहा है. विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों को सतर्क करते हुए कहा है कि ऐसी वेबसाइट्स से सावधान रहें. यूनिवर्सिटी से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट www.bujhansi.ac.in से ही संपर्क करें.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट – शाश्वत सिंह

    झांसी. एडमिशन का सीजन चल रहा है. आधुनिकता और टेक्नोलॉजी के दौर में पूरी एडमिशन प्रक्रिया ऑनलाइन हो गई है. बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की प्रवेश प्रक्रिया भी लंबे समय से ऑनलाइन कर दी गई है. इसका मकसद गलत तरीके से हो रहे एडमिशन को रोकना था. लेकिन इसी टेक्नोलॉजी का अब लोग गलत इस्तेमाल करने लगे हैं. कई जगहों पर बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की फर्जी वेबसाइट बनाकर भी एडमिशन किए जा रहे हैं. विश्वविद्यालय प्रशासन ने विद्यार्थियों को सचेत करते हुए कहा है कि विश्वविद्यालय से जुड़ी तमाम गतिविधियां आधिकारिक वेबसाइट www.bujhansi.ac.in के माध्यम से ही चलाई जाती हैं. इसके अलावा विश्वविद्यालय की कोई अन्य वेबसाइट नहीं है.

    बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के प्रवेश सेल के निदेशक प्रोफेसर एसपी सिंह ने बताया कि पहले भी कई ऐसे मामले आए हैं, जब फर्जी वेबसाइट बनाई गई है. bujhansi.com और bujhansi.in जैसी वेबसाइट्स सामने आई थीं. विश्वविद्यालय ने तुरंत इन पर एक्शन लेते हुए वेबसाइट्स को बंद करवाया था. इस मामले के बारे में सूचना प्रसारण मंत्रालय को भी सूचित किया गया है. लेकिन इसके बावजूद कुछ असामाजिक तत्व तकनीक का फायदा उठाकर नई वेबसाइट बनाते रहते हैं.

    सत्यापन के समय खुलता है राज

    Tags: Bundelkhand news, Jhansi news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर