• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Vaccination in UP: इस स्वास्थ्य केंद्र पर वैक्सीनेशन के लिए लगती है जूते, चप्पल और पत्थरों की लाइन

Vaccination in UP: इस स्वास्थ्य केंद्र पर वैक्सीनेशन के लिए लगती है जूते, चप्पल और पत्थरों की लाइन

यूपी के ललितपुर में स्वास्थ्य केंद्र पर लोग वैक्सीनेशन के लिए जूते-चप्पलों की लाइन बनाकर इंतजार करते हैं.

यूपी के ललितपुर में स्वास्थ्य केंद्र पर लोग वैक्सीनेशन के लिए जूते-चप्पलों की लाइन बनाकर इंतजार करते हैं.

Vaccination in UP: ललितपुर के कस्बा बार में स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए ग्रामीण रोज जूता, चप्पल और पत्थर रखकर लाइन लगाते हैं. आरोप है कि केंद्र पर रोजाना अधिकतम 100 लोगों को ही वैक्सीन लगाई जाती है, जिसके कारण बड़ी संख्या में लोग मायूस होकर लौटते हैं.

  • Share this:
ललितपुर. उत्तर प्रदेश के ललितपुर (Lalitpur) जिले में वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) को लेकर जूता, चप्पल और पत्थर की लाइन लगती है. जी हां, यह अजीबो-गरीब मामला जिले के स्वास्थ्य केंद्र के बाहर का है. ग्रामीण जूता, चप्पल और पत्थर की लाइन इसलिए लगाते हैं, ताकि उन्हें घंटों धूप में न बैठना पड़े. हद तो तब हो जाती है कि जब इतना जतन करने के बाद भी रोजाना बड़ी संख्या में ग्रामीणों को वैक्सीन के अभाव में वापस घर लौटना पड़ता है. स्थिति ये होती है कि लाइन में जूता, चप्पल और पत्थर लगाने को लेकर लोगों में आए दिन तीखी-नोकझोंक भी होती रहती है.

कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन बड़ा हथियार है. देश के प्रधानमंत्री ने तो हाल ही में यहां तक कह दिया कि बाहों में वैक्सीन लगवाकर बाहुबली बन जाओ. अधिक से अधिक वैक्सीनेशन को लेकर सरकार भी विशेष प्रयास कर रही है. इसके बावजूद जिले के कुछ स्वास्थ्य केंद्रों पर वैक्सीन की भारी कमी है. वैक्सीनेशन को लेकर अव्यवस्थाएं भी देखने को मिल रही हैं. ताजा मामला जिले के कस्बा बार स्वास्थ्य केंद्र का है. यहां सोशल डिस्टेसिंग कायम रहे और लोगों को तेज धूप में लाइन में खड़ा न रहना पड़े, इसके लिए ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्र के बाहर जूता, चप्पल और पत्थर रखकर लाइन लगाते हैं.

वैक्सीनेशन के लिए इंतजार

vaccination line, Lalitpur News,
यूपी की ललितपुर में स्वास्थ्य केंद्र पर लोग वैक्सीनेशन के लिए जूते-चप्पलों की लाइन बनाकर इंतजार करते हैं.


कभी-कभी तो लाइन में जूता, चप्पल और पत्थर रखने को लेकर ग्रामीणों में बहस भी हो जाती है. आरोप है कि स्वास्थ्य केंद्र पर रोजाना अधिकतम 100 लोगों को ही वैक्सीन लगाई जाती है, जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग बे-रंग ही घर लौट जाते हैं. यही नहीं लोगों की भीड़ देखकर दलाल भी सक्रिय हो गए हैं, वे वैक्सीन जल्द लगवाने के नाम पर ग्रामीणों से अवैध वसूली करने में जुटे हुए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज