Assembly Banner 2021

देर रात शादी शुदा प्रेमिका से मिलने पहुंचा लवर, सामने आ गया पति और फिर...

देर रात शादी शुदा प्रेमिका से मिलने पहुंचा लवर

देर रात शादी शुदा प्रेमिका से मिलने पहुंचा लवर

हाथ कटने के बाद महिला को झांसी मेडिकल कॉलेज में प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत को देखते डॉक्टरों ने ग्वालियर मेडिकल कॉलेज (Gwalior Medical College) के लिए रेफर कर दिया है.

  • Share this:
झांसी. उत्तर प्रदेश के झांसी (Jhansi) जिले में गुरुवार देर शाम एक वहशी प्रेमी ने मामूली विवाद में अपनी शादी शुदा प्रेमिका का धारदार से हाथ काट डाला. इतना ही नहीं अपनी मां को बचाने आए मासूम पर भी दरिंदे प्रेमी ने धारदार हथियार से कई वार किये. जिसके चलते मासूम भी गंभीर रूप से घायल हो गया. घायल महिला और बच्चे को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वारदात के बाद इलाके में चर्चा बनी हुई है. घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. पुलिस उसकी तलाश में छापेमारी कर रही है.

घटना रक्सा थाना क्षेत्र के एवदा गांव की है. जहां गांव की रहने वाली मीना से गांव के ही रहने वाले राकेश केवट का लंबे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था. गुरूवार की रात प्रेमी जैसे ही अपनी शादीशुदा प्रेमिका के घर में घुसा. इसी बीच पति ने देख लिया. विवाद होने वाले आरोपी राकेश केवट ने धारदार हथियार से हमला करना शुरू कर दिया. इस हमले में मीना के हाथ की कलाई कटकर हाथ से अलग हो गई. वहीं मां के हाथ की कलाई कटी देख महिला के मासूम बच्चे ने जब राकेश का विरोध किया. इस पर हैवान बन चुके राकेश ने मासूम पर धारदार हथियार से हमला कर किया.

ये भी पढे़ं- Analysis: यूपी में कितना चल पाएगा 'AAP' का फेंका गया Caste कार्ड!



इस हमले में मासूम भी गभीर रूप से घायल हो गया. गांव में महिला का हाथ काटे जाने की सूचना पर मौके पर पहुची पुलिस ने धारदार हथियार के हमले में घायल मां- बेटे मेडिकल कालेज में इलाज के लिए भर्ती कराया. जहां महिला की गंभीर हालत को देखते हुए डाॅक्टरो ने हाथ की कलाई को जोड़ने को लेकर घायल प्रेमिका को ग्वालियर के लिए रेफर कर दिया.
आरोपी की तलाश में छापेमारी

इस बाबत पुलिस अफसरों का कहना है कि सूचना मिलने पर तत्काल मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजने के बाद दरिंदे राकेश की तलाश में पुलिस जुट गई. हाथ कटने के बाद महिला को एम्बुलेंस से झांसी मेडिकल कॉलेज में प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत को देखते डॉक्टरों ने ग्वालियर मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया है. महिला के बेटे का इलाज झांसी के मेडिकल कालेज में चल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज