• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • बुन्देलखण्ड के यात्रियों के लिये नई लाइफलाइन बनेंगी मेमू ट्रेनें, जानिए रूट

बुन्देलखण्ड के यात्रियों के लिये नई लाइफलाइन बनेंगी मेमू ट्रेनें, जानिए रूट

UP: झांसी मंडल में अब पैसेंजर ट्रेन की जगह मेमू ट्रेनें दौड़ती दिखाई देंगी. (सांकेतिक तस्वीर)

UP: झांसी मंडल में अब पैसेंजर ट्रेन की जगह मेमू ट्रेनें दौड़ती दिखाई देंगी. (सांकेतिक तस्वीर)

Jhansi News: झांसी रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि अब तक मंडल में 200 से लेकर 300 किलोमीटर तक पैसेंजर ट्रेन चलाई जा रही थी. 30 सितम्बर से इसे खत्म किया जा रहा है. इनकी जगह अब मेमू ट्रेन चलेंगी.

  • Share this:

झांसी. भारतीय रेलवे (Indian Railways) बुन्देलखण्ड (Bundelkhand) के रेल यात्रियों को एक और बड़ी सौगात देने जा रहा है. गरीबों की लाइफलाइन श्रृंखला में एक ट्रेन और जुड़ने जा रही है. आमतौर पर पैसेंजर ट्रेनों को बुन्देलखण्ड की लाइफ लाइन के तौर पर देखा जाता है लेकिन जल्द ही इसमें एक और बड़ा सुधार बुन्देलखण्ड के रेल यात्रियों को देखने के लिए मिलेगा. अब यहां मेमू ट्रेनों (मेनलाइन इलेक्ट्रिकल मल्टीपल यूनिट) का संचालन जल्द शुरू  होगा.

उत्तर मध्य रेलवे के झांसी मंडल में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है. यात्रियों का सफर आसान बनाने के लिए 30 सितम्बर से झांसी रेल मंडल में आधा दर्जन मेमू (मेनलाइन इलेक्ट्रिकल मल्टीपल यूनिट) ट्रेनें चलाई जा रही हैं. जिसकी तैयारी पूरी कर ली गई है.

झांसी रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि अब तक झांसी मंडल में 200 से लेकर 300 किलोमीटर तक सफर व छोटे-बड़े स्टेशनों पर रुकने के लिए पैसेंजर ट्रेन चलाई जा रही थी. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. 30 सितम्बर से इसे खत्म किया जा रहा है. इनकी जगह अब झांसी मंडल में मेमू ट्रेन चलाई जा रही है. ये मेमू ट्रेन कानपुर से झांसी, झांसी से कानपुर, झांसी से मानिकपुर, मानिकपुर से झांसी, झांसी से बांदा और बांदा से झांसी के बीच चलाई जायेंगी. इन ट्रेनों में अत्याधुनिक मेमू कोच लगाये जायेंगे, जिससे कम दूरी के यात्रियों का सफर आरामदायक हो.

पैसेंजर ट्रेनों की जगह लेंगी मेमू ट्रेन

मंडल में पैसेंजर की जगह मेमू रैक (ट्रेन) का संचालन शुरू होने जा रहा है. शुरूआत में छह रैक प्रतिदिन अलग-अलग ट्रैक पर चलेंगे. मेमू में गाड़ी के दोनों तरफ इंजन लगे होते हैं. इससे इंजन को आगे-पीछे लगाने का झंझट नहीं होगा. इस संबंध में उत्तर मध्य रेलवे के सीपीटीएम डीके वर्मा ने मंडल के संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं.

ये हैं मेमू ट्रेनों के प्रमुख रूट

कानपुर से झांसी

झांसी से कानपुर

झांसी से मानिकपुर

मानिकपुर से झांसी

झांसी से बांदा

बांदा से झांसी

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज