होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /झांसी नगर निगम की उलटबांसी! बड़े नाले को छोटी नाली में जोड़ दिया, बारिश होते ही तैरने लगता है आजादगंज

झांसी नगर निगम की उलटबांसी! बड़े नाले को छोटी नाली में जोड़ दिया, बारिश होते ही तैरने लगता है आजादगंज

Jhansi News: झांसी में बारिश होते ही आजादगंज मोहल्ले के लोग परेशान हो जाते हैं क्योंकि नगर निगम की लापरवाही से घरों में पानी घुसने लगता है.

Jhansi News: झांसी में बारिश होते ही आजादगंज मोहल्ले के लोग परेशान हो जाते हैं क्योंकि नगर निगम की लापरवाही से घरों में पानी घुसने लगता है.

Jhansi Local News: झांसी में बरसात का मौसम आते ही वार्ड नंबर 53 आजादगंज में रहने वाले लोग परेशान हो उठते हैं. इसलिए नही ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- शाश्वत सिंह

    झांसी. बरसात का मौसम आते ही झांसी शहर के वार्ड नंबर 53 आजादगंज में रहने वाले लोग परेशान हो उठते हैं. बारिश हर साल आफत बनकर आती है. बरसात के समय खुश होने के बजाये इस कॉलोनी के लोगों की पूरी रात घरों से पानी निकालने में बीत जाती है. इस समस्या का कारण है झांसी नगर निगम. जी हां, निगम की छोटी सी गलती का बड़ा खामियाजा आजादगंज के लोगों को उठाना पड़ रहा है. आम तौर पर छोटी नालियों को बड़े नाले में जोड़ा जाता है, ताकि घरों का गंदा पानी निकल जाए. लेकिन झांसी के इस वीवीआईपी वार्ड में बड़े नाले को ही छोटी नाली में जोड़ दिया गया. नगर निगम के इंजीनियरों की यह गलती अब लोगों को भारी पड़ने लगी है.

    वार्ड नंबर 53 में गोपाल मंदिर के पास रहने वाली राजकुमारी ने बताया कि पिछले कई सालों से यह समस्या बनी हुई है. स्थानीय पार्षद से लेकर मेयर और नगर निगम के अधिकारियों तक से शिकायत की गई, लेकिन समाधान नहीं निकला. हर बार बारिश में नाली का पानी ओवरफ्लो होकर घरों में घुस जाता है. एक अन्य महिला ने बताया कि नाला तो नाली में जोड़ ही दिया गया, सड़क की ऊंचाई भी लगातार बढ़ाई जा रही है. इसकी वजह से भी नाली का पानी घर के अंदर घुसता है.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    वीवीआईपी वार्ड का है बुरा हाल

    वार्ड नंबर 53 के ही निवासी विवेक सिंह ने बताया कि इस वॉर्ड को वीवीआईपी वार्ड का दर्जा प्राप्त है. स्थानीय सांसद और विधायक के घर भी इसी वॉर्ड में हैं. इसके बावजूद यहां के लोगों को ऐसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. मेयर ने खुद आकर इस समस्या को देखा था, लेकिन कोई समाधान नहीं निकला. स्थानीय पार्षद लखन कुशवाहा ने बताया कि यह मामला अधिकारियों के संज्ञान में लाया जा चुका है. इस गलती को जल्द ही ठीक कर दिया जाएगा.

    Tags: Jhansi news, Municipal Corporation

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें