ललितपुरः सजा काट रहे कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

ललितपुर में खाकी एक बार फिर से दागदार हुई है. मामला जिला कारागार में सजा काट रहे एक कैदी की इलाज के दौरान संदिग्ध परिस्थितयों में हुई मौत का है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 2:15 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 2:15 PM IST
ललितपुर में खाकी एक बार फिर से दागदार हुई है. मामला जिला कारागार में सजा काट रहे एक कैदी की इलाज के दौरान संदिग्ध परिस्थितयों में हुई मौत का है. परिजनों और समर्थकों ने आरोप लगाया है कि पहले पुलिस ने युवक को झूठे मामले में जेल भेजा और बाद में जेल प्रशासन ने कैदी को यातनाएं दीं जिसके चलते उसकी हालत बिगड़ गई और बाद में इलाज दौरान उसकी मौत हो गई.

बताया गया है कि सदर कोतवाली के जेल चौराहा मोहल्ला के पास रहने वाले शमसाद को पुलिस ने बाइक चोरी के मामले में जेल भेज दिया था. 15 दिन पहले हुई इस कार्रवाई के बाद अचानक युवक की हालत बिगड़ गई. पहले जेल प्रशासन ने कैदी को जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया, लेकिन जब सुधार नहीं हुआ तो उसे झांसी ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया.

पुलिस और जेल प्रशासन की अभिरक्षा में युवक की मौत की सूचना मिलने के बाद परिजन और समर्थक आक्रोशित हो गए और उन्होंने जेल के पास ही जाम लगाकर पुलिस और जेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. हालात बिगड़ते देख जेल चौराहे के पास भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया.

परिजन और समर्थक दोषियों के खिलाफ कार्रवाई और मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता राशि दिए जाने की मांग पर अड़े थे. उपजिलाधिकारी सदर और अपर पुलिस अधीक्षक ने प्रदर्शनकारियों को समझा-बुझा कर शांत किया तब जाकर वह मृतक के अंतिम संस्कार के लिए राजी हुए. इस स्थिति के चलते कई घंटों तक इलाइट चौराहे के पास यातायात बाधित रहा. इस मामले में पुलिस और जेल प्रशासन की बड़ी किरकिरी हुई.

रिपोर्ट – अभय श्रीमाली

ये भी पढ़ें - 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर