• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • यहां लगी है वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई की पहली मूर्ति

यहां लगी है वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई की पहली मूर्ति

रणभूमि

रणभूमि में अंग्रेजों से लोहा लेते रानी लक्ष्मीबाई की मूर्ति 

रानी लक्ष्मी बाई की युद्ध में लड़ते हुई तस्वीर का पहला चित्रण, झांसी के रहने वाले मशहूर क्रांतिकारी मास्टर रुद्र नारायण ने किया था.उन्होंने झांसी के लक्ष्मी व्यायाम मंदिर में रानी लक्ष्मीबाई की पहली मूर्ति बनाई थी.

  • Share this:

    \’बुंदेले हरबोलों के मुंह हमने सुनी कहानी थी, खूब लड़ी मर्दानी वह तो झांसी वाली रानी थी\’ मशहूर कवयित्री सुभद्रा कुमार चौहान की यह कविता कई बार पढ़ी गई, कई बार सुनी गई. इस कविता में खूब लड़ी मर्दानी का जिक्र तो हमनें सुना पर इसका चित्रण किसने किया इससे कई लोग अनभिज्ञ हैं.रानी लक्ष्मी बाई की युद्ध में लड़ते हुई तस्वीर का पहला चित्रण, झांसी के रहने वाले मशहूर क्रांतिकारी मास्टर रुद्र नारायण ने किया था.उन्होंने झांसी के लक्ष्मी व्यायाम मंदिर में रानी लक्ष्मीबाई की पहली मूर्ति बनाई थी. रानी की यह मूर्ति विश्व की पहली मूर्ति है.

    मास्टर रुद्र नारायण को आज भी नहीं जानते कई लोग
    मास्टर रुद्र नारायण झांसी के रहने वाले थे. जब चंद्रशेखर आज़ाद झांसी में अपनी मां के साथ अज्ञातवास में रह रहे थे, तो रुद्र नारायण ने ही उनका साथ दिया था. मास्टर रुद्र नारायण ने भगत सिंह की सेंट्रल असेंबली में बम ब्लास्ट करने की योजना में भी साथ दिया था. मास्टर रुद्र नारायण के इतिहास को कई धारावाहिकों में भी दिखाया गया है, लेकिन फिर भी बहुत कम लोग ही उनके बारे में जानते हैं.

    घर घर जाकर इकट्ठा की थी जानकारी
    मास्टर रुद्र नारायण रूद्र नारायण ने इस मूर्ति के निर्माण का काम 1937 में शुरू किया था और 1943 में यह मूर्ति बनकर तैयार हुई थी. मास्टर रूद्र नारायण ने इस मूर्ति के निर्माण के लिए काफी समय तक लोगों से बातचीत की और रानी के बारे में जानकारी हासिल की थी. रानी की इस मूर्ति को जीवंत रूप देने की कोशिश रूद्र नारायण ने की थी. क्रांतिकारी मास्टर रूद्र नारायण के पौत्र मुकेश नारायण सक्सेना के अनुसार जब लक्ष्मी व्यायाम मंदिर में इस मूर्ति को स्थापित किया गया था तब एक बड़ा मेला लगा था. लकड़ी के पाइपों पर रखकर इस मूर्ति को ले जाया गया था. मूर्ति का कुल वजन 2000 किलो था. इसकी खासियत यह थी कि उनका चेहरा लोगों से जानकारी हासिल कर तैयार किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज