Assembly Banner 2021

मनपसंद प्रेमिका को पाने की चाहत ने बनाया फर्जी सिपाही, ऐसे चढ़ा RPF के हत्‍थे

पुष्पेंद्र सिंह अहिरवार फर्जी आरपीएफ सिपाही बनकर रौब दिखा रहा था.

पुष्पेंद्र सिंह अहिरवार फर्जी आरपीएफ सिपाही बनकर रौब दिखा रहा था.

झांसी(Jhansi) में एक गजब मामला सामने आया है, जहां एक युवक मनपसंद प्रेमिका की चाहत में फर्जी आरपीएफ सिपाही बन कर रेलवे स्‍टेशन पर रौब दिखा रहा था.

  • Share this:
झांसी. उत्‍तर प्रदेश के झांसी (Jhansi) में एक अजब मामला सामने आया है. जी हां, मनपसंद लड़की की चाहत में युवक ने अपराध (Crime) की दुनिया में कदम रख दिया. वहीं, अपराध भी इतना संगीन है, जिसे सुनकर हर कोई हैरान है. आमतौर पर प्रेमिका के लिए प्रेमी चोरी या फिर लूट करते हैं, लेकिन अगर कोई अपनी मनपसंद प्रेमिका को पाने के लिए पुलिस वाला बन जाए तो किसी को आसानी से विश्वास नहीं होगा, लेकिन ये सच है.

क्या है पूरा मामला
झांसी की आरपीएफ ने मध्य प्रदेश के सोनागिरी रेलवे स्टेशन (Soniagiri Railway Station) पर एक फर्जी आरपीएफ सिपाही को गिरफ्तार किया है, जो कि बाकायदा आरपीएफ की पूरी वर्दी और आई कार्ड के साथ सोनागिरी रेलवे स्टेशन पर पिछले 2 महीने से ड्यूटी कर रहा था. सूचना मिलने पर झांसी की आरपीएफ की टीम ने घेराबंदी करते हुए फर्जी आरपीएफ के सिपाही को रंगे हाथों यात्रियों पर रौब झाड़ते हुए गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्त में आए फर्जी सिपाही के पास से आरपीएफ का बैज, बैरेट कैप और बेल्ट भी बरामद हुई. इस फर्जी आरपीएफ सिपाही का नाम पुष्पेंद्र सिंह अहिरवार है जो मूल रूप से दतिया जिले के बरौनी थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक गांव का रहने वाला है. यकीनन, आरपीएफ का सिपाही बनकर अपने गांव में ग्रामीणों पर रौब झाड़ने के साथ-साथ मन पसन्द लड़की से शादी करने के सपने को पूरा करने के लिए पुष्पेंद्र ने जो जुर्म का रास्ता अख्तियार किया और आज उसी रास्ते ने उसे सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है. बहरहाल, पुष्पेंद्र के हाथ मनपसंद प्रेमिका तो नहीं लगी, लेकिन वह सलाखों के पीछे जरूर पहुंच गया है.

आरपीएफ इंस्पेक्टर ने कही ये बात
इस मामले को लेकर आरपीएफ के इंस्पेक्टर अजय यादव का कहना है कि बीते कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि सोनागिरी रेलवे स्टेशन पर एक युवक यात्रियों पर रौब झाड़ कर उनको परेशान कर रहा है. जानकारी मिलने पर आरपीएफ ने फर्जी आरपीएफ के सिपाही पुष्पेंद्र सिंह अहिरवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. वह मूल रूप से दतिया जिले के बरौनी थाना क्षेत्र के एक गांव का रहने वाला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज