होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /झांसी में यूपी का दूसरा सबसे बड़ा जिमनास्टिक हॉल, उद्धाटन सीएम योगी ने किया; अब क्यों निराश हैं खिलाड़ी?

झांसी में यूपी का दूसरा सबसे बड़ा जिमनास्टिक हॉल, उद्धाटन सीएम योगी ने किया; अब क्यों निराश हैं खिलाड़ी?

झांसी में उत्तर प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा जिमनास्टिक हॉल है. यह हॉल पिछ्ले साल बनकर तैयार हो गया था. मई 2022 में इसका उ ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- शाश्वत सिंह

झांसी: उत्तर प्रदेश के झांसी में प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा जिमनास्टिक हॉल है. यह हॉल पिछ्ले साल बनकर तैयार हो गया था. मई 2022 में इसका उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया गया था. इस जिमनास्टिक हॉल को इस मकसद से तैयार किया गया था कि यहां ट्रेनिंग लेकर खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मंचों पर झांसी तथा उत्तर प्रदेश का नाम रोशन करेंगे. लेकिन, अफसोस की बात यह है कि इतने महीने बाद भी जिमनास्टिक हॉल को कोच नहीं मिल सका है. बिना कोच की मौजूदगी के खिलाड़ी भी यहां ट्रेनिंग नहीं कर पाते हैं.

आधुनिक सुविधाओं से लैस है हॉल
पिछले साल 3.5 करोड़ की लागत से इस जिमनास्टिक हॉल का निर्माण कराया गया था. यह जिमनास्टिक हॉल सभी प्रकार की आधुनिक सुविधाओं से लैस है. हॉल में 44 टन के 18 एसी लगे हुए हैं. इसके साथ ही यहां सिंथेटिक फ्लोर, होम पिट और आधुनिक लाइटें लगाई गई हैं. इसके साथ ही दीवारों पर वुडन पेनल और एलईडी भी लगी हुई हैं. हर महीने हॉल के रखरखाव पर लगभग 7000 रुपए का खर्च आता है. इतनी सुविधाएं होने के बाद भी खिलाड़ी इस हॉल का प्रयोग नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि कोच उपलब्ध नहीं है.

जल्द मिलेगा कोच

जिमनास्टिक जैसे खेल में प्रतिष्ठित कोच का मौजूद होना अनिवार्य होता है. कोच की अनुपस्थिति में खिलाड़ी चोटिल भी हो सकते हैं. खेल विभाग के अधिकारियों के अनुसार वर्तमान में 10 खिलाड़ी पंजीकृत हैं लेकिन वह भी कभी-कभी यहां आते हैं. इस मामले में क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी सुरेश बोनकर ने बताया कि कोच के लिए शासन को चिट्ठी लिख दी गई है और पत्राचार जारी है. जल्द ही जिमनास्टिक हॉल को कोच मिल जाने की उम्मीद है.

Tags: Jhansi news, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें