लाइव टीवी

ग्रामीणों ने गाड़ी के आगे लेटकर किया प्रदर्शन, डरकर गाड़ी छोड़ भागे अधिकारी  

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 28, 2018, 10:39 AM IST

कई बार शिकायत के बाद भी जब अधिकारियों ने ग्रामीणों की शिकायत पर गंभीरता नहीं दिखाई तो गुस्साए ग्रामीणों ने गाड़ी के आगे लेटकर प्रदर्शन किया.

  • Share this:
झांसी में रविवार शाम ग्रामीणों ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों की गाड़ी के आगे लेटकर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की. ग्रामीणों के उग्र प्रदर्शन से सिंचाई विभाग के अधिकारी बुरी तरह घबरा गए और गाड़ी छोड़कर भाग खड़े हुए. जब घटना की सूचना जिला प्रशासन को मिली तो अपर जिलाधिकारी, उप-जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी सहित 4 थानों की पुलिस मौके पर पहुंची. अधिकारियों को ग्रामीणों को समझाने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा, हालांकि बाद में लोग मान गए.

बांध परियोजना में भ्रष्टाचार की शिकायत की थी 

जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने कई बार सिंचाई विभाग के अधिकारियों से मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम बचेरा में बने लाखेरी बांध परियोजना में भ्रष्टाचार होने की शिकायत की थी. कई बार शिकायत के बाद भी जब अधिकारियों ने ग्रामीणों की शिकायत पर गंभीरता नहीं दिखाई तो गुस्साए ग्रामीणों ने गाड़ी के आगे लेटकर प्रदर्शन किया.

ग्रामीणों ने बताया कि बांध परियोजना में कुछ लोगों को मुआवजा दिया गया और कुछ लोग अभी भी मुआवजा से वंचित हैं. उन्होंने आरोप लगाते हुए बताया कि मध्य प्रदेश के निवासियों को अधिकारियों की मेहरबानी से मुआवजा दिया जा चुका है, जिसकी जांच की कई बार मांग की गई, लेकिन इस बारे में कोई कार्रवाई अभी तक नहीं हुई.

प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों का कहना था कि जबतक भ्रष्टाचार की जांच पर कार्रवाई नहीं की जाती वे अधिकारियों को जाने नहीं देंगे. हालांकि जब वरिष्ठ अधिकारियों ने ग्रामीणों से बातचीत की तो वे मान गए और सिंचाई विभाग के अधिकारियों को जाने दिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झांसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 28, 2018, 10:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर