Home /News /uttar-pradesh /

बुंदेलखंड की विरासत को अब मिलेगा नया पता, जल्द बनेगी वेबसाइट

बुंदेलखंड की विरासत को अब मिलेगा नया पता, जल्द बनेगी वेबसाइट

बुंदेलखंड

बुंदेलखंड की विरासत को मिलेगा एक नया पता

बुंदेलखंड और झांसी के बारे में अगर आप जानते के इच्छुक हैं लेकिन किताबों को नहीं पढ़ना चाहते तो जल्द ही आपके लिए यह बहुत आसान होने वाला है. जी हां, एक ऐसी वेबसाईट बनाई जा रही है जो बुंदेलखंड के इतिहास और यहां की विशेषताओं की पूरी जानकारी लोगों के लिए उपलब्ध होगी.

अधिक पढ़ें ...

    बुंदेलखंड और झांसी के बारे में अगर आप जानते के इच्छुक हैं लेकिन किताबों को नहीं पढ़ना चाहते तो जल्द ही आपके लिए यह बहुत आसान होने वाला है. जी हां, एक ऐसी वेबसाईट बनाई जा रही है जो बुंदेलखंड के इतिहास और यहां की विशेषताओं की पूरी जानकारी लोगों के लिए उपलब्ध होगी.मंडलायुक्त डॉ अजय शंकर पांडे के निर्देशन में इस वेबसाइट को तैयार किया जाएगा. वेबसाइट में बुंदेलखंड के साहित्य संस्कृति और पर्यटन से जुड़ी जानकारी उपलब्ध होंगी.इसके साथ ही बुंदेलखंड में उगाए जा रहे विशेष कृषि उत्पाद, यहां का फ्लोरा फौना और यहां के वनों को भी इस वेबसाइट पर जगह दी जाएगी.बात अगर बुंदेलखंड के रिति रिवाजों और क्षेत्रीय व्यंजनों की करें तो उनके लिए भी इस वेबसाइट में एक विशेष जगह बनाई गई है.इसके अलावा बुंदेलखंड के जल के स्त्रोत और उनके संरक्षण के साथ ही हस्तशिल्प और उद्योग धंधों के लिए भी इस वेबसाइट में एक सेक्शन बनाया गया है.

    <b>बुंदेलखंड की विरासत को बचाने की हो रही है पहल</b>
    आपको बता दें कि मंडलायुक्त डॉक्टर अजय शंकर पांडे ने झांसी की कमान संभालते ही बुंदेलखंड की विरासत को संरक्षित करने का काम शुरू कर दिया है. उन्होंने सबसे पहले यहां के इतिहासकारों और साहित्यकारों से मुलाकात की.इसके बाद बुंदेली कला को समर्पित एक प्रदर्शनी लगाई गई. प्रदर्शनी ललित कला संस्थान डॉक्टर श्वेता पांडे के निर्देशन में लगाई गई.इसके साथ ही साहित्य पर काम करने के लिए डॉ पुनीत बिसारिया के अध्यक्षता में एक समिति का गठन कर दिया गया है. बात अगर व्यंजन की करें तो जाने-माने इतिहासकार मुकुंद मल्होत्रा को इसका काम सौंप दिया गया है और पर्यटन की जिम्मेदारी डॉ प्रतीक अग्रवाल को सौंपी गई है.

    (रिपोर्ट – शाश्वत सिंह)

    Tags: Bundelkhand, Heritage, Jhansi news, Tourism

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर