ललितपुर जिला अस्पताल की कहानी, जब दुर्गंध आई तो पता चला यहां एक लाश है!

ललितपुर में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. यहां के जिला अस्पताल स्थित मॉर्चरी में एक लाश बीते 5 दिन से सड़ रही है. लेकिन अभी तक उसका अंतिम संस्कार नहीं हो सका है.

abhay shrimali | ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 11, 2017, 6:41 PM IST
ललितपुर जिला अस्पताल की कहानी, जब दुर्गंध आई तो पता चला यहां एक लाश है!
ललितपुर में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. यहां के जिला अस्पताल स्थित मॉर्चरी में एक लाश बीते 5 दिन से सड़ रही है. लेकिन अभी तक उसका अंतिम संस्कार नहीं हो सका है.
abhay shrimali | ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 11, 2017, 6:41 PM IST
ललितपुर में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. यहां के जिला अस्पताल स्थित मॉर्चरी में एक लाश बीते 5 दिन से सड़ रही है. लेकिन अभी तक उसका अंतिम संस्कार नहीं हो सका है.
चौंकाने वाली बात यह है कि अस्पताल प्रशासन को मॉर्चरी में पड़ी लाश की कोई जानकारी ही नहीं थी.

जब लाश सड़ने पर दुर्गंध फैली, तब अस्पताल प्रशासन ने उसकी सुध ली. बताया गया है कि सदर कोतवाली के देवगढ़ रोड पर पांच दिन पहले एक अज्ञात व्यक्ति का शव पड़ा मिला था. इस शव को 108 नंबर की एंबुलेंस जिला अस्पताल लेकर आई थी. तब से यह शव अस्पताल की मॉर्चरी में ही पड़ा हुआ है.

पता चला कि शव की इंट्री ही अस्पताल के अभिलेखों में दर्ज नहीं है. पांच दिनों बाद शव बुरी तरह से सड़कर दुर्गंध मारने लगा है. दुर्गंध के चलते अस्पताल में आये मरीजों और उनके तीमारदारों का बुरा हाल बना हुआ है.

एक मरीज के तीमारदार जावेद बताते हैं कि मैं अस्पताल से बाहर निकल रहा था कि अचानक बेहद तीव्र बदबू आई. यहां सांस लेना भी दूभर हो रहा था. पता चला कि यहां एक लाश रखी गई है. उसे एक हफ्ते से भी ज्यादा हो गया है. अभी तक उसे उठाया नहीं गया है.

वहीं इस मामले को लेकर जब हमने जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ प्रताप सिंह से बातचीत की तो वह इसे पुलिस की लापारवाही बता रहे हैं. वहीं सीएमओ डॉ प्रताप सिंह कहते हैं कि हमें लगता है कि ये केस दो या तीन दिन पहले आया था. इसमें 72 घंटे लाश को रखने की संभावना रहती है. इसके लिए पुलिस वाले दोषी हैं, उन्हें पेपर लेकर आना चाहिए. जो भी लापरवाही होगी उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झांसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2017, 6:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...