15 साल के छात्र ने रची अपने अपहरण की साजिश, दो राज्यों की पुलिस और ATS को छकाया

लोकेशन बदलकर घूम रहे छात्र ने दोनों राज्यों की पुलिस और ATS को खूब छकाया, छात्र फिरौती की रकम लेने के लिए आया और पुलिस के बुने जाल में फंस गया

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 11, 2018, 12:03 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 11, 2018, 12:03 AM IST
महज 15 साल के यूपी के कन्नौज के छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र के निवासी छात्र ने अपने ही अपहरण की साजिश रच डाली. कक्षा 10 में पढ़ने वाला छात्र परिजनों से नाराज था. अपहरण का नाटक कर असम में सेना में तैनात अपने पिता से फोन पर खुद की जान के बदले अपहरणकर्ता बनकर फिरौती के रूप में 50 लाख रुपए की मोटी रकम मांगी.

हाईप्रोफाइल अपहरण की सूचना पर पुलिस जांच में छात्र की लोकेशन गुजरात के बड़ोदरा में मिली. लोकेशन बदलकर घूम रहे छात्र ने दोनों राज्यों की पुलिस और ATS को खूब छकाया. छात्र फिरौती की रकम लेने के लिए आया और पुलिस के बुने जाल में फंस गया. गुजरात ATS के सहयोग से कन्नौज की सर्विलांस टीम ने मथुरा जंक्शन से छात्र को धर दबोचा.

कन्नौज पुलिस की सर्विलांस टीम की सक्रियता से लोकेशन के गुजरात में आने के आधार पर गुजरात ATS की मदद से गुजरात से आने वाली हर ट्रेन में टीम खोज अभियान चला रही थी. पुलिस की मुस्तैदी के कारण मथुरा में कानपुर एक्सप्रेस से अमन की सकुशल बरामदगी कर ली गई.

पूछताछ पर अमन ने गृह कलह को लेकर घर से गुजरात भाग कर वही काम करने को कारण बताया. मात्र तीन दिन में अपहृत अमन की सर्विलांस टीम द्वारा सकुशल बरामदगी करने पर पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम को 10000 रुपए पुरस्कार राशि देने का ऐलान किया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर