होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Kannauj Assembly Seat Result: समाजवादी गढ़ कन्नौज में सेंध लगाने में कामयाब रहे भाजपा के अरुण असीम, दर्ज की जीत

Kannauj Assembly Seat Result: समाजवादी गढ़ कन्नौज में सेंध लगाने में कामयाब रहे भाजपा के अरुण असीम, दर्ज की जीत


Kannauj Assembly Seat Result Live : सपा 2017 में सिर्फ 2454 वोट के अंतर से जीती थी.

Kannauj Assembly Seat Result Live : सपा 2017 में सिर्फ 2454 वोट के अंतर से जीती थी.

Kannauj Assembly Seat Result Live : कन्नौज विधानसभा सीट समाजवादी पार्टी का 2002 से अभेद्य किला रहा है. कन्नौज विधानसभा ...अधिक पढ़ें

Kannauj Assembly Seat Result Update: समाजवादी पार्टी के मजबूत गढ़ कन्‍नौज विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी के प्रत्‍याशी अरुण असीम ने जीत दर्ज की है. बीजेपी प्रत्‍याशी असीम अरुण ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंदी और समाजवादी पार्टी के प्रत्‍याशी अनिल कुमार को 6 हजार 90 वोटों से सियासी शिकस्‍त दी है. इस चुनाव में  पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण को 1 लाख 20 हजार 555 वोट मिले हैं. जबकि, उनके निकटतम प्रतिद्वंदी अनिल कुमार को कुल एक लाख 14 हजार 193 वोट मिले हैं.

उल्‍लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में कन्नौज बेहद महत्वपूर्ण सीट थी. कन्नौज विधानसभा सीट पर 2002 के बाद अब तक सपा नहीं हारी थी. सपा के इस मजबूत गढ़ को तोड़ने के लिए बीजेपी ने पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण (IPS Asim Arun BJP) को अपना प्रत्‍याशी बनयाा था, जबकि सपा की उम्‍मीदवारी मौजूदा विधायक अनिल कुमार दोहरे कर रहे थे. वहीं, बसपा ने समर जीत और कांग्रेस ने विनीता देवी को प्रत्याशी बनाया था.

पिछले विधानसभा चुनाव में अनिल दोहरे ने भारतीय जनता पार्टी के बनवारी लाल दोहरे को महज 2454 वोटों के अंतर से हराया था. यही वजह है कि इस बार के चुनाव में भाजपा इस सीट सीट को जीतने के लिए पूरा जोर लगा रही है. कन्नौज (एससी) को सपा का गढ़ माना जाता है क्योंकि यहां 2002 के बाद से हुए सभी चुनावों में सपा ही जीतती रही है.

आपके शहर से (लखनऊ)

इसलिए वीआईपी सीट है कन्नौज
मौजूदा विधायक अनिल दोहरे साल 2007, 2012 और 2017 में यहां से चुने गए थे. पार्टी ने एक बार फिर उन्हीं पर भरोसा जताते हुए दोहरे को चुनाव मैदान में उतारा है. इसके जवाब में भाजपा ने यूपी कैडर के पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण को सियासी मैदान में खड़ा किया है. अरुण भी कन्नौज से ही हैं.

Tags: UP Assembly Election 2021, UP Election 2022

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें