मायावती के हेलीपैड पर सांड ने लोगों को दौड़ाया, बाल-बाल बचे लोग
Kannauj News in Hindi

अचानक से सांड के घुस आने से रैली स्‍थल पर अफरा-तफरी का माहौल बन गया. लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के कन्नौज में एक बड़ी दुर्घटना टल गई. अखिलेश यादव और मायावती की रैली से पहले ही सभास्थल पर सांड घुस गया. इससे मौके पर अफरा-तफरी का माहौल बन गया. लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. ऐसे में कुछ देर के लिए रैली स्थल पर अशांति फैल गई. पुलिस के जवानों को सांड को भगाने के लिए काफी मशक्‍कत करनी पड़ी. कहा जा रहा है कि सांड को भगाने में एक सफाई कर्मचारी और एक पुलिसकर्मी भी चोटिल हो गए.

बता दें कि कन्नौज में गठबंधन प्रत्याशी डिंपल यादव के प्रचार के लिए रैली का आयोजन किया गया था. बसपा सुप्रीमो मायावती और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव एक साथ जनसभा को संबोधित करने वाले थे. इसके लिए जनसभा स्थल पर हेलीपैड बनाया गया था. लेकिन, दोनों नेताओं के आने से पहले ही वहां एक सांड घुस गया.





ऐसे में भीड़ में सांड के घुसने से रैली स्थल पर भगदड़ मच गई. रैली स्थल पर भगदड़ देख वहां मौजूद पुलिस के जवानों ने काफी मशक्‍कत के बाद सांड को काबू में किया. इस बीच अपने भाषण में अखिलेश यादव ने कहा कि भीषण गर्मी के बाद भी यह भीड़ बता रही है कि कन्नौज से बड़ा परिणाम आएगा. अखिलेश ने कहा कि मैं और डिंपल यहां आने से पहले मां अन्नपूर्णा मंदिर गए थे.
अखिलेश ने कहा कि कुछ देर पहले रैली स्थल पर सांड घुस आया था. ऐसे में मौके पर अशांति फैल गई थी, तब मैंने डीजीपी साहब को फोन किया और कहा कि हमारी रैली को कोई खराब करने आया है, पर वह नहीं समझ पाए. फिर हमने बताया कि सभा में सांड घुस आया है. मालूम हो कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली में हेलीपैड पर सांड घुस गया था.

ये भी पढ़ें - 

ANALYSIS: बिहार की सियासत में कुशवाहा खुद को क्यों मानते हैं लालू-नीतीश का उत्तराधिकारी?

BDO के पद से इस्‍तीफा देकर किया था नॉमिनेशन, अब रद्द हो गया नामांकन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज