कन्नौज जिला जेल में बंदियों ने अधीक्षक, डिप्टी जेलरों के पीटा
Kannauj News in Hindi

कन्नौज के जिला जेल में रविवार देर रात बंदियों ने अधीक्षक, डिप्टी जेलरों और बंदी रक्षकों को दौड़ा-दौड़कर पीटा. इस हिंसा में दो डिप्टी जेलर और एक बंदी रक्षक घायल हो गए.

  • Share this:
कन्नौज के जिला जेल में रविवार देर रात बंदियों ने अधीक्षक, डिप्टी जेलरों और बंदी रक्षकों को दौड़ा-दौड़कर पीटा. इस हिंसा में दो डिप्टी जेलर और एक बंदी रक्षक घायल हो गए.

इस घटना के बाद जेल अधीक्षक के आदेश के बाद सिपाहियों ने बैरक में घुसकर बंदियों पर जमकर लाठियां बरसाईं. इसमें एक दर्जन से अधिक बंदी घायल हो गए. घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे डीएम और एसएसपी ने बंदियों से बातचीत कर करीब तीन घंटे बाद बवाल पर काबू पाया. बंदी अपने साथी बंदी की पिटाई से गुस्से में थे.

बता दें मैनपुरी जिले के रामनगर गांव निवासी विनोद उर्फ़ खन्ना 18 अक्टूबर 2016 से लूट, हत्या व डकैती के मामले में पांच साथियों के साथ जेल में बंद है. दो दिन पहले बंदी रक्षकों ने उसे बेरहमी से पीटा था.



शनिवार को पेशी के दौरान विनोद ने सीजेएम कोर्ट में वकीलों और मीडिया को अपने जख्म दिखाकर इसकी जानकारी दी थी. जिसके बाद रविवार को जेल अधीक्षक यूपी मिश्रा के आदेश पर बंदी रक्षकों ने विनोद को पूरे दिन बैरक से बाहर बैठाए रखा था. शाम को बैरक में ले जाते समय बंदी रक्षकों और विनोद के बीच गाली-गलौज हो गया. इसके बाद बंदी रक्षकों ने विनोद को पीटना शुरू कर दिया. यह देखकर अन्य बंदियों ने हंगामा शुरू करे दिया.
मौके पर पहुंचे जेल अधीक्षक और डिप्टी जेलरों ने उन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं मानें. बंदियों ने जेल अधिकारीयों और बंदी रक्षकों को दौड़ा-दौड़कर पीटा. इसमें डिप्टी जेलर सुरेन्द्र मोहन, राम अवतार और एक बंदी रक्षक घायल हो गए. इसके बाद जेल अधीक्षक के आदेश पर सिपाहियों ने बंदियों पर जमकर लाठियां बरसाईं. इसमें एक दर्जन से जयादा बंदी घायल हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading