भूख से रो रहा था 8 महीने का बच्चा, दूध नहीं खरीद पायी मां तो दबा दिया गला

मां से जब भूख से बिलखते बच्चे का रोना नहीं सुना गया तो उसने गला घाेंटकर उसे हमेशा के लिए शांत कर दिया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 12, 2019, 6:43 PM IST
भूख से रो रहा था 8 महीने का बच्चा, दूध नहीं खरीद पायी मां तो दबा दिया गला
मां ने बेटे का घोंटा गला (प्रतीकात्मक फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 12, 2019, 6:43 PM IST
यूपी के कन्नौज में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक मां ने अपने ही आठ महीने  के बच्चे की गला दबाकर हत्या कर दी. इस मजबूर मां का गुनाह सिर्फ था कि वो अपने बच्चे के लिए दूध का इंतजाम नहीं कर पाई. मां के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो अपने कलेजे के टुकड़े के लिए दूध खरीद सके.

मां से जब भूख से बिलखते बच्चे का रोना नहीं सुना गया तो उसने गला घाेंटकर उसे हमेशा के लिए शांत कर दिया. आरोपी रूखसार की 4 साल की बेटी अनम ने बताया कि मां ने भाई को गला दबा कर मार दिया. घटनास्थल पर मौजूद पुलिस भी इस वारदात के बारे में सुनकर दहल गई.



क्या है मामला?
पुलिस ने बताया कि छिबरामऊ के मोहल्ला बिरतिया में रहने वाला शाहिद उर्फ शालू मुंबई में नौकरी करता है. उसकी पत्नी रुखसार कन्नौज के छिबरामऊ स्थित एक मोहल्ले में बने घर में तीन बच्चों के साथ रह रही है. आसपास के लोगों की मानें तो रुखसार का 8 माह का पुत्र अहद तीन दिन से भूखा था. रुखसार बेटे के लिए दूध का इंतजाम नहीं कर पा रही थी. तीनों बच्चे उससे बार-बार खाना मांग रहे थे.

रात से ही अहद दूध के लिए तेज आवाज में रो रहा था. पूरी रात उसे पानी पिलाने का प्रयास करने वाली रुखसार उसका दर्द बर्दाश्त नहीं कर पाई. उसने भूखे अहद का गला दबाकर चीख हमेशा के लिए शांत कर दी. शुक्रवार की सुबह बेटे की हत्या के बाद पास में ही गुमसुम होकर बैठी थी. काफी देर तक अहद में कोई हलचल न देखकर परिजनों को शक हुआ और उसके पास जाने का प्रयास किया तो रुखसार ने गुस्सा जताते हुए सभी को रोक दिया. बेटी अनम से जानकारी के बाद परिजनों और लोगों की भीड़ लग गई.

ये भी पढ़ें: 

बुलंदशहर: दिल्ली की छात्र के साथ दो युवकों ने किया गैंगरेप
Loading...

पति ने नहीं दिलाई नई साड़ी, नवविवाहिता ने लगा ली फांसी

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...