BJP सांसद का बॉलीवुड पर आरोप, बोले- हिंदुओं की भावना को ठेस पहुंचाने के साथ लव जिहाद को बढ़ावा देती है इंडस्‍ट्री

भाजपा सांसद ने बॉलीवुड पर लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया है.
भाजपा सांसद ने बॉलीवुड पर लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया है.

कन्नौज से बीजेपी के सांसद सुब्रत पाठक (BJP MP Subrat Pathak) ने बॉलीवुड (Bollywood) पर हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के साथ देश लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
कन्नौज. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस के बाद मायानगरी को लेकर उत्‍तर प्रदेश और बिहार के नेता लगातार बयान दे रहे हैं. यही नहीं, इस समय उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में फिल्म सिटी (Film City) बनाने को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने खासे सक्रिय दिखई दे रहे हैं और मंगलवार को उन्‍होंने सिनेमा जगत की बड़ी हस्तियों से चर्चा भी की है. इस बीच, कन्नौज से बीजेपी के सांसद सुब्रत पाठक(BJP MP Subrat Pathak) ने बॉलीवुड पर हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है. पाठक का आरोप है कि बॉलीवुड में एक धर्म विशेष को ईमान का पक्का बताया जाता है, तो हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाई जाती है. उनका कहना है कि हिंदुओं से जुड़े किरदारों और उनके प्रति चिन्हों को इस तरह से दिखाया जाता है जिससे उनकी धार्मिक भावना आहत हो जाती है. यही नहीं, तिलकधारियों को भी आतंकी के तौर पर दिखाया जाता है.इसके अलावा पाठक ने कहा कि बॉलीवुड में काम दिलाने के नाम पर अभिनेत्रियों के शोषण के बाद भी अब तक कोई गिरफ़्तारी नहीं है. आख़िर क्या कर रही है महाराष्ट्र सरकार और महाराष्ट्र पुलिस ?

बॉलीवुड दे रहा है लव जिहाद को बढ़ावा
इसके साथ-साथ भाजपा सांसद सुब्रत पाठक का आरोप है कि बॉलीवुड जो समाज का आईना होता है में लव जिहाद को इस तरह से दिखाया जाता है जिससे इसे समाज में बढ़ावा मिलता है. उनका आरोप है कि इससे हमारी युवा पीढ़ी काफी प्रतिकूल तौर पर प्रभावित हो रही है. यही नहीं, पाठक पिछले कई दशकों से बॉलीवुड के किये जा रहे साम्प्रदायिकरण के कारण से देश भर में लव जिहाद के सामने आ रहे मामलों को रोकने हेतु कठोर कानून बनाये जाने की मांग संसद में भी रख चुके हैं.

बॉलीवुड में ड्रग सप्लाई को लेकर लगाए ये आरोप
बीजेपी सांसद सुब्रत पाठक ने बॉलीवुड में केमिकल ड्रग्स के बढ़ते चलन और इसके नेक्सस पर भी सवाल खड़े किए हैं. उनका कहना है कि केमिकल ड्रग भारत में बनते नहीं है इसके उपयोग पर भी प्रतिबंध है, लेकिन फिर बॉलीवुड में यह ड्रग्‍स कैसे आ रहे हैं. केमिकल ड्रग्स युवा पीढ़ी को खोखला कर रही है और इसके एक्सेस को तोड़ने की जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज