अपना शहर चुनें

States

कन्नौज: शादीशुदा बेटी के प्रेम-प्रसंग से हो रही थी बदनामी, बाप ने चाचा संग मिलकर उतारा मौत के घाट

बेटी के प्रेम-प्रसंग से परेशान पिता ने भाई संग मिलकर उसकी हत्या कर दी
बेटी के प्रेम-प्रसंग से परेशान पिता ने भाई संग मिलकर उसकी हत्या कर दी

शव को ठिकाने लगाने के बाद दोनों थाने पहुंचे और पूरी कहानी सुनाकर हत्या की बात कबूल ली. पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर शव की खोज शुरू कर दी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 11:07 AM IST
  • Share this:
कन्नौज. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कन्नौज (Kannauj) जिले में ऑनर किलिंग (Honour Killing) का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जिले में एक युवती के प्रेम-प्रसंग से हो रही बदनामी से परेशान होकर बाप ने अपने भाई के साथ मिलकर उसकी हत्या (Murder) कर दी. दोनों ने हत्या कर शव को पास ही बहने वाली काली नदी में फेंक दिया. शव को ठिकाने लगाने के बाद दोनों थाने पहुंचे और पूरी कहानी सुनाकर हत्या की बात कबूल ली. पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर शव की खोज शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि जब तक शव नहीं मिल जाता तब तक कुछ नहीं कहा जा सकता.

शव की तलाश में जुटी पुलिस

मामला कन्नौज के गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के रौरा गांव का है, यहां के दो भाई सर्वेश और कमलेश मंगलवार दोपहर अचानक इंस्पेक्टर के सामने हाजिर होते हैं और बेटी की हत्या कर शव काली नदी में फेंकने की बात कबूल करते हैं. पहले तो पुलिस उनकी बात पर भरोसा नहीं करती, लेकिन जब वह पूरी बात को बार-बार दोहराते हैं तो कोतवाल सारी जानकारी सीओ को देते हैं. जिसके बाद सीओ मौके पर पहुंचते और दोनों को हवालात में डलवाकर गोताखोरों से शव की खोज शुरू करवाते हैं. सीओ का कहना है कि जब तक शव नहीं मिल जाता कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. सीओ श्रीकांत प्रजापति का कहना है की हांलांकी दोनों भाई ने अपना जुर्म कबूल रहे हैं, फिर भी शव का मिलना जरूरी है.



दो बार हुई शादी फिर भी प्रेमी के पास लौटी
के उधर बेटी की हत्या करने वाले भाइयों की माने तो उनका पूरा परिवार बेटी की हरकतों से परेशान था. उसका गांव के ही एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था. जिसके साथ वह एक बार भाग भी चुकी थी. किसी तरह बेटी को घर लाने के बाद परिजनों ने उसकी एक साल पहले शादी कर दी, लेकिन वह ससुराल से भाग आयी. कुछ दिन बाद दूसरी जगह उसकी दोबारा शादी की गयी, लेकिन इस बार भी वह पति को छोड़कर कुछ दिन पहले भाग आयी. बेटी को मारने का दावा करने वाले पिता की माने तो बेटी फिर से प्रेमी के साथ भागने की तैयारी में थी. जिसके चलते गांव में उनके परिवार की बदनामी हो रही थी. बदनामी से परेशान होकर गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और शव काली नदी में फेंक दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज