कन्नौज: मेथी समझकर बनाई गांजे की सब्जी, खाकर परिवार के 6 सदस्यों की हालत बिगड़ी

गांजे की सब्जी खाकर एक ही परिवार के 6 सदस्य हुए
गांजे की सब्जी खाकर एक ही परिवार के 6 सदस्य हुए

एक सब्जी विक्रेता ने मेथी बताकर गांव के ही मनोज कुमार को गांजे की पत्तियां दे दीं.

  • Share this:
कन्नौज. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कन्नौज (Kannauj) जिले में गांजे (Hemp) की सब्जी खाने से एक ही परिवार के 6 लोगों लोगो की हालत बिगड़ गयी. सभी को स्थानीय लोगों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया. घटना सदर कोतवाली क्षेत्र के मियागंज गांव की है. जहां एक सब्जी विक्रेता ने मेथी बताकर गांव के ही मनोज कुमार को गांजे की पत्तियां दे दी. सब्जी विक्रेता ने मनोज को यह कहते हुए गांजे की पत्तियां बेच दी कि उसके पिता ने उससे मेथी के लिए कहा था. जिसके बाद मनोज पालीथीन में बंद गांजे की पत्तियां लेकर घर चला आया. घर वाले भी इस बात से अंजान थे कि पालीथीन में मेथी की जगह गांजे की पत्तियां हैं. दोपहर के समय घर में आलू-मेथी की सब्जी बनी. जिसे खाने के बाद सभी की तबीयत बिगड़ गई.

आलू-गांजे की सब्जी खाकर हुए बेहोश

आलू-गांजे की सब्जी खाने के बाद परिवार के सभी लोगों को चक्कर आना शुरू हो गया. परिवार ने किसी तरह इसकी जानकारी पड़ोसियों को दी. पड़ोसियों ने तुरंत एम्बुलेंस की मदद से सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. अस्पताल में होश आने पर जब मनोज ने नवल किशोर से पूछा कि उसने क्या दिया थो तो उसने बताया कि मजाक के इरादे से उसने गांजा दे दिया था.



पुलिस ने आरोपी को लिया हिरासत में
उधर पुलिस ने सब्जी विक्रेता नवल किशोर को गिरफ्तार कर लिया और पालीथीन में रखी गांजे की पत्तियां और आलू-गांजे की सब्जी को भी बरामद कर लिया. मनोज ने बताया कि सब्जी विक्रेता नवल किशोर से पूछा तो उसने बताया कि उसने मजाक मजाक में गांजे की पत्तियां दे दी थी. फिलहाल पुलिस नवल किशोर से पूछताछ कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज