लाइव टीवी

प्रेम में बाधा बनने पर नाबालिग बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर भाई की हत्या की

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 25, 2019, 5:15 PM IST
प्रेम में बाधा बनने पर नाबालिग बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर भाई की हत्या की
एक कलियुगी नाबालिग बहन ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सगे भाई की हत्या कर दी और हत्यारिन बहन घड़ियाली आंसू बहाकर पुलिस को गुमराह करती रही.

कन्नौज (Kannauj) जिले में रिश्तों को शमर्सार कर देने वाला सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक कलियुगी नाबालिग बहन (Minor Sister) ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सगे भाई की हत्या (Murder) कर दी.

  • Share this:
कन्नौज. कन्नौज (Kannauj) जिले में रिश्तों को शमर्सार कर देने वाला सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक कलियुगी नाबालिग बहन (Minor Sister) ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सगे भाई की हत्या (Murder) कर दी और हत्यारिन बहन घड़ियाली आंसू बहाकर पुलिस को गुमराह करती रही. पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर की तफ्तीश शुरू की तो कुछ ही दिनों में मामला शीशे की तरह साफ हो गया क्योंकि हत्या किसी और ने नहीं बल्कि मृतक की सगी बहन ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी. घटना कन्नौज जिले के ठठिया थाना इलाके के खैरनगर पुल के पास की है. 15 सितंबर को पुलिस को सूचना मिली थी कि एक लावारिश मोटर साइकिल नहर के पास पड़ी हुई है और उसके पास काफी खून पड़ा हुआ है.

पुलिस को गुमराह करने के लिए फूट-फूट कर रो रही थी हत्यारिन बहन
सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब तफ्तीश शुरू की तो जानकारी मिली कि बाइक किसी बलराम नाम के युवक की है. पुलिस ने जब संपर्क कर बलराम के परिवारवालों को घटनास्थल पर बुलाया तो उन्होंने बाइक पहचान ली. घटनास्थल पर बलराम की हत्यारिन बहन पुलिस को गुमराह करने के लिए फूट-फूट कर रो रही थी. जब अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने उससे पूछताछ की तो उसने बताया की वह बुधवार सुबह अपने भाई के साथ दवा लेने कानपुर जा रही थी तभी रास्ते में दो युवक मिले और भाई ने उससे घर जाने को कहा और भाई दोनों युवकों के साथ चला गया. वे दोनों युवक कौन थे, उसे मालूम नहीं. घटनास्थल से पुलिस को बाइक तो बरामद हो गयी लेकिन बलराम नहीं मिला. पुलिस को शक हुआ कि कहीं बलराम की हत्या कर शव को नहर में तो नहीं फेंक दिया गया.

बलराम की हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया गया था

पुलिस ने एसडीआरफ की टीम बुलाकर नहर में बलराम की तलाशी करवाई तो पुलिस का शक सही निकला. बलराम की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी और शव को नहर में फेंक दिया गया था. बलराम का शव नहर से बरामद हो गया. पुलिस ने पीड़ित परिवार की तहरीर पर ठठिया थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया. पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर की तफ्तीश शुरू की तो उसे मृतक की बहन पर शक हुआ. इसके बाद पुलिस ने उससे पूछताछ की तो हत्या का पर्दाफ़ाश हो गया. आरोपी बहन ने पुलिस को बताया कि वह प्रदीप से प्यार करती थी, लेकिन उसका भाई बलराम प्रदीप से चिढ़ता था, वह उसके प्रेम में बाधक बना हुआ था.

बहन ने प्रेमी से कहा, भाई का काम तमाम कर दो
नाबालिग बहन को लगा कि जब तक बलराम जिंदा रहेगा तब तक वह अपने प्रेमी से शादी नहीं कर पाएगी. उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सगे भाई की हत्या का षडयंत्र रच डाला. घटना वाले दिन आरोपी बहन ने अपने प्रेमी को फोन कर बताया की वह अपने भाई के साथ दवा लेने जा रही है. नहर के पास मिलकर बलराम का काम तमाम कर दो.सगी बहन ने भाई पर चाकुओं से तब तक किया वार जब तक कि उसकी मौत नहीं हो गई
बलराम जब अपनी बहन के साथ दवा लेने जा रहा था तभी षडयंत्र के तहत आरोपी बहन के प्रेमी ने उसको रोक लिया और अपने साथी के साथ मिलकर उस पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार करने लगा. बलराम की सगी नाबालिग बहन ने भी चाकुओं से तब तक अपने भाई पर वार किया जब तक उसकी मौत नहीं हो गई. हत्या के बाद तीनों ने मिलकर उसके शव को नहर में फेंक दिया.

रिपोर्ट – लोकेश दुबे

ये भी पढ़ें - 

चिन्मयानंद ब्लैकमेलिंग केस: SIT चीफ ने बताई लॉ छात्रा की गिरफ्तारी की वजह

अयोध्या विवाद सुनवाई: मुस्लिम पक्ष ने कहा- ASI रिपोर्ट सटीक साक्ष्य नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कन्नौज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 25, 2019, 4:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर