कन्नौज मेडिकल कालेज में एक बेड पर दो-दो घायल भर्ती, वार्ड ब्वाय ने किया उपचार

इमरजेंसी वार्ड में केवल एक जूनियर डॉक्टर की ही ड्यूटी थी. डाक्टर साहब भी इलाज के नाम पर रजिस्टर भरते नजर आए

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 8, 2018, 1:55 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 8, 2018, 1:55 PM IST
कन्नौज मेडिकल कालेज की बदहाली एक बार फिर सामने आई है. यहां सड़क हादसे के घायलों की इमरजेंसी में उपचार के नाम पर खानापूर्ति की गई. बेड न होने से एक बेड पर दो-दो घायलों को रखा गया. यहां वार्ड ब्वाय घायलों का उपचार करते दिखे.

सुबह कन्नौज में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर बोलेरो और बस की हुई टक्कर में 25 पर्यटक घायल हो गए थे, जिन्हें उपचार के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया था. हादसों का वे बनते जा रहे लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर मंगलवार को कन्नौज के तिर्वा में सुबह बोलेरो से टकराकर एक मिनी एसी बस पलट गई. बस में नेपाल के पर्यटक सवार थे जो जयपुर घूमने जा रहे थे.

हादसे में 25 पर्यटक घायल हो गए, जिन्हें पुलिस ने इलाज के लिए तिर्वा मेडिकल कालेज में भर्ती करवाया. इमरजेंसी वार्ड में केवल एक जूनियर डॉक्टर की ही ड्यूटी थी. डाक्टर साहब भी इलाज के नाम पर रजिस्टर भरते नजर आए. इमरजेंसी के वार्ड ब्वाय घायलों को ट्रीटमेंट दे रहे थे. हाल यह था कि जगह न होने से एक बेड पर दो दो घायलों को रखा गया था. इलाज कितना संजीदगी से हो रहा था इसकी सच्चाई खुद घायल बयान कर रहे है. घायलों का जिन बिस्तरों पर इलाज हो रहा था उनमें चादर तक नहीं थी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर