पेयजल योजना में भ्रष्टाचार की शिकायत, रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद

रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद.
रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद.

रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद.

  • Share this:
कन्नौज जिले में जल निगम विभाग के भ्रष्टाचार का मामला सामने आ रहा है. रिएलटी चेक के दौरान खुलासा हुआ कि, विभाग ने पेयजल योजना के तहत घटिया मटेरियल इस्तेमाल किया है. जिसकी वजह से रोजाना लाखों लीटर पानी की बर्बादी हो रही है.

जिले के सदर ब्लॉक के घमाइचमऊ गांव में पेयजल योजना के तहत पाइप लाइन बिछाई गईं हैं. इन लाइनों में लीकेज होने के कारण सारा पानी सड़कों पर बह रहा है. रोजाना पानी की टंकी भरने के बाद लाखों लीटर पानी गांव की सड़कों पर बह रहा है. ग्रामीण और पंप ऑपरेटर ने इस पानी की बर्बादी को लेकर कई बार विभाग से शिकायत की है लेकिन इसके बावजूद अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है.

पेयजल योजना की सच्चाई



सपा सरकार में एकल ग्रामीण पेयजल पाइप लाइन योजना के तहत नलकूप और टंकी का निर्माण कराया गया था. योजना के अनुसार कई पाइप लाइन बिछाई गई थी. इसका उद्घाटन पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने किया था. बता दें कि योजना पर एक करोड़ 13 लाख रुपए से ज्यादा की लागत खर्च की गई थी. लेकिन सच्चाई ये है कि अगर इस बजट के जरिए हकीकत में काम होता तो ग्रामीणों को इसका फायदा जरुर मिलता.
मामले को लेकर गांव के प्रधान का कहना है कि विभाग ने योजना के तहत भ्रष्टाचार किया है. पानी की हो रही बर्बादी से विभाग की सच्चाई सामने आ चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज