लाइव टीवी

11वीं की छात्रा का अपहरण कर चलती कार में गैंगरेप, पुलिस ने एक हफ्ते बाद लिखी FIR

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 10, 2019, 2:34 PM IST
11वीं की छात्रा का अपहरण कर चलती कार में गैंगरेप, पुलिस ने एक हफ्ते बाद लिखी FIR
पीड़िता ने रो-रोकर बताई अपनी दास्तां

पीड़ित युवती का आरोप है कि इस दौरान आरोपितों ने उसका वीडियो भी बनाया औऱ जब पीड़िता ने शादी करने का वादा किया तो उसे छोड़ा गया. छात्रा ने महिला थाने में शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने मामले में समझौता कराकर केस ही रफा-दफा कर दिया.

  • Share this:
औरैया. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के औरैया जिले (Auraiya District) में 11वीं की छात्रा (Student) का अपहरण कर उससे कार में गैंगरेप (Gangrape) का मामला सामने आया है. इसका खुलासा तब हुआ जब जिलाधिकारी (डीएम) के आदेश के एक सप्ताह बाद पुलिस (Police) ने आरोपियों के खिलाफ गैगरेंप का मामला दर्ज किया. पीड़िता का आरोप है कि आरोपियों ने उसका वीडियो भी बनाया और जब उसने शादी करने का वादा किया तो उसे छोड़ा गया. छात्रा ने इस संबंध में महिला थाने में शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने मामले में समझौता कराकर केस रफा-दफा कर दिया.

बीते 29 नवंबर की है घटना

पिछले हफ्ते शनिवार को पीड़ित छात्रा ने इस संबंध में एक बार फिर पुलिस को तहरीर दी, तब जाकर मामला दर्ज किया गया. पीड़िता ने बताया कि 29 नवंबर को वो अपने घर से औरैया स्कूटी से कोचिंग पढ़ने आई थी. वो दोपहर के लगभग दो बजे बाजार से सामान लेकर अपनी स्कूटी से तिलक महाविद्यालय के पीछे पहुंची ही थी, तभी पीछे से अचाकर एक गाड़ी उसे ओवरटेक करती हुई आई और वो उसकी स्कूटी के आगे खड़ी हो गई. इसके बाद गाड़ी से उतरे चार लोगों ने उसे जबरन गाड़ी में डाल लिया और पिस्टल दिखाकर उसे डराया-धमकाया.

शादी करने का आश्वासन देने पर छोड़ा

इस दौरान वो लोग उसका मुंह दबा कर कानपुर की ओर ले गए. रास्ते में आरोपियों में से जमालीपुर के रहने वाले अंकित यादव और अर्पित यादव ने गाड़ी में ही उसके साथ रेप किया. इस दौरान गाड़ी में बैठे दो अज्ञात लोगों ने उसका अश्लील वीडियो बना लिया. पीड़िता का कहना है कि अंकित यादव काफी समय से उसे परेशान कर रहा था. पीड़ित छात्रा ने बताया कि वो लोग उसे जान से मारकर फेंकने की भी धमकी दे रहे थे. इस पर मजबूर होकर उसने उससे शादी करने का आश्वासन दिया. जिसके बाद वो लोग उसे उसी स्थान पर लाकर छोड़ गए जहां से उसे अगवा किया था. इस दौरान उनका एक साथी उसकी स्कूटी लेकर आ गया.

डीएम के हस्तक्षेप के बाद लिखा गया मुकदमा

पीड़िता ने बताया कि चार घंटे तक उसके साथ चलती कार में गलत काम (रेप) किया गया. इतना ही नहीं मुंह खोलने पर जान से मारने की भी धमकी दी गई. जब उसने शादी करने की बात कही तो उसे छोड़ा गया. जिसके बाद छात्रा ने घर पहुंचकर परिजनों को आपबीती बताई तो वो उसे लेकर महिला थाने पहुंचे. यहां पुलिस ने समझौते का दबाव बनाया. पीड़िता के मुताबिक आरोपी वीडियो दिखाकर बदनाम करने की धमकी देते रहे. पुलिस ने कहा कि समझौता कर लो वरना जान से जाओगी. इसके बाद उसने जिलाधिकारी के यहां गुहार लगाई गई. तब जाकर मुकदमा दर्ज हुआ. हालांकि पीड़ित छात्रा का अभी भी मेडिकल नहीं हुआ है.गिरफ्तारी के लिए टीम गठित

पीड़िता ने बताया कि इस मामले में उसने महिला थाने में शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई थी. लेकिन पुलिस ने उस पर समझौता करने का दबाव बनाया. पीड़िता की तहरीर पर कोतवली पुलिस ने अंकित यादव, अर्पित यादव और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस के आलाधिकारियों का कहना है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है.

एक आरोपी सेना का सिपाही

पुलिस अधीक्षक (एसपी) सुनीति ने बताया कि आलाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद यह मुदमा दर्ज करवाया गया है. साथ ही इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है और आस-पास के दुकानदारों से भी बात की जा रही है. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे आरोपियों के बारे में पूछताछ की जा रही है. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए भी दो टीमें गठित की गई हैं. एक आरोपी सेना में सिपाही है और इलाहाबाद में तैनात है. यह भी पता लगाया जा रहा है कि वो किस बटालियन से है ताकि आधिकारिक रूप से भी उसके पास पहुंचा जा सके. इसके अलावा यह पता लगाने की भी कोशिश की जा रही है कि वो घटना वादे दिन यानी 29 नवंबर को कहां था, ड्यूटी पर था या फिर छुट्टी पर.

ये भी पढे़ं: 

CAB बिल लोकसभा में पास होने पर बोले आजम खान- लोकतंत्र में दिमाग नहीं, सिर गिने जाते हैं

बरेली: पति ने अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने की दी धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 12:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर