अपना शहर चुनें

States

बिकरू कांड: किशोर न्याय बोर्ड ने माना- विकास गैंग की सहयोगी खुशी को थी अपराध की समझ

बिकरू कांड में मुख्य आरोपी विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया था. (File photo)
बिकरू कांड में मुख्य आरोपी विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया था. (File photo)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) के चर्चित बिकरू कांड (Bikaru Case) में विकास दुबे गैंग (Vikas Dubey Gang) की सहयोगी मानी जाने वाली आरोपी खुशी (Khushi) के मामले में किशोर न्याय बोर्ड (Juvenile Justice Board) की रिपोर्ट सामने आई है.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) के चर्चित बिकरू कांड (Bikeru Case) में विकास दुबे गैंग (Vikas Dubey Gang) की सहयोगी मानी जाने वाली आरोपी खुशी (Khushi) के मामले में किशोर न्याय बोर्ड (Juvenile Justice Board) की रिपोर्ट सामने आई है. किशोर न्याय बोर्ड ने माना है कि खुशी को अपराध (Crime) की समझ थी. अब मामले की सुनवाई कानपुर के ही माती स्थित बाल न्यायालय में होगी. किशोर न्याय बोर्ड ने खुशी से बातचीत के बाद अपनी रिपोर्ट दी है. बोर्ड ने माना कि न सिर्फ वो हाई स्कूल तक शिक्षित है. बल्कि उसे उसे अपराध की समझ थी और वह अपराध के परिणाम को भी समझती थी.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक खुशी मामले में आगे की सुनवाई के लिए पत्रावली बाल न्यायालय स्थानांतरित कर दी गई है. इधर आरोपी खुशी के अधिवक्ता ने किशोर न्याय बोर्ड के इस आदेश के विरुद्ध बाल न्यायालय में अपील करने की बात कही है. बता दें कि बिकरू कांड में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मी शहीद हो गए थे.

विकास दुबे के करीबी की पत्नी
बिकरू कांड में मुख्य आरोपी विकास दुबे के करीबी अमर दुबे की पत्नी खुशी को भी पुलिस ने मामले में आरोपी बनाया है. दस्तावेजों की जांच में किशोर न्याय बोर्ड ने खुशी को नाबालिग पाया है. सुनवाई किशोर न्याय बोर्ड में चल रही थी. बीते 17 दिसंबर को बोर्ड ने उसकी मानसिक स्थिति के प्रारंभिक निर्धारण के लिए बातचीत की थी. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक खुशी से बातचीत के बाद किशोर न्याय बोर्ड यह मान रहा है कि वह अपराध को समझने की स्थिति में थी. उसे पूरी तरह से समझ है. उसके कृत्य को नासमझी में किया गया कार्य नहीं कहा जा सकता है. किशोर न्याय बोर्ड की प्रधान मजिस्ट्रेट साक्षी गर्ग ने मामले की सुनवाई के लिए पत्रावली बाल न्यायालय स्थानांतरित कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज