BSP नेता पिंटू सिंह हत्याकांड: गुमनाम खतों से पुलिस को मिल रहे अहम संकेत, बढ़ा जांच का दायरा
Kanpur News in Hindi

BSP नेता पिंटू सिंह हत्याकांड: गुमनाम खतों से पुलिस को मिल रहे अहम संकेत, बढ़ा जांच का दायरा
कानपुर पुलिस को बसपा नेता पिंटू सिंह की हत्या मामले में कई गुमनाम पत्र मिल रहे हैं, जिसमें कई अहम सूचनाएं दी जा रही हैं.

गुमनाम खतों के सामने आने के बाद पुलिस ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है. कानपुर (Kanpur) के एसपी ईस्ट राजकुमार अग्रवाल ने कहा कि पुलिस हर एंगल पर जांच कर रही है, जो पत्र सोशल मीडिया के जरिए उन्हें मिले हैं, उनको भी जांच में शामिल किया गया है.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश में कानपुर (Kanpur) के चर्चित बसपा नेता पिंटू सिंह हत्याकांड (BSP Leader Pintu Singh Murder Case) में 12 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. वहीं इस मामले में अब गुमनाम खत लगातार सामने आ रहे हैं, जो इस हत्याकांड के बारे में पुलिस को अहम क्लू मुहैया करा रहे हैं. एक खत में जहां एक पुलिसकर्मी के वारदात में शामिल होने का दावा किया गया तो दूसरे खत में शूटरों की पहचान को उजागर किया गया है. पुलिस इन खतों के मजमून को जांच में शामिल कर रही है. हालांकि पुलिस इन खतों को लेकर सजग है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि हो सकता है कि जांच कि दिशा को भटकाने के लिए इस तरह के खत भेजे जा रहे हों.

20 जून को हुई थी दिनदहाड़े हत्या

आपको बता दें कि 20 जून को बसपा नेता पिंटू सेंगर की दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. वारदात को अंजाम देकर हत्यारे फरार हो गए. बाद में क्षेत्र में तलाशे गए सीसीटीवी फुटेज में 2 बाइक में 4 संदिग्ध जाते हुए दिखाई दिए. जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल की गईं. इस मामले में मृतक के परिजनों ने 7 नामजद सहित 8 लोगों को पर एफआईआर दर्ज कराई. लेकिन पुलिस को मामले में अभी तक कोई सफलता नहीं मिल पाई है.



पत्र में एक पुलिसकर्मी का संबंध हत्या से होने का दावा
इसी दौरान गुमनाम खत मिलने का सिलसिला शुरू हो गया. यह खत मीडिया संस्थानों को भेजे जा रहे हैं. एक खत में दावा किया गया कि मिश्रा नाम का एक पुलिसकर्मी हत्या की इस वारदात का सूत्रधार है. पिंटू सेंगर से उसका साढ़े 6 करोड़ रुपए के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था. जिसके चलते उसने अपने गुर्गों से हत्या की इस वारदात को अंजाम दिलाया. वहीं एक दिन बाद एक दूसरा खत भेजा गया, जिसमें सीसीटीवी में दिख रहे 4 बदमाशों में 2 की पहचान उजागर की गई. साथ ही इस खत में बताया गया की हत्या में इस्तेमाल की गई दोनों बाइक कहां पर खड़ी हैं? यही नहीं साजिश में शामिल कुछ लोगों के नाम उजागर किए गए.

पुलिस ने खत मिलने के बाद बढ़ाया जांच का दायरा

गुमनाम खतों के सामने आने के बाद पुलिस ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है. एसपी ईस्ट राजकुमार अग्रवाल ने कहा कि पुलिस हर एंगल पर जांच कर रही है, जो पत्र सोशल मीडिया के जरिए उन्हें मिले हैं, उनको भी जांच में शामिल किया गया है. मिश्रा पुलिस कर्मी के बारे में जानकारी की जा रही है. वहीं दूसरे खत में जिन लोगों का जिक्र किया गया है, उनके बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है और उनकी हत्या की वारदात में संलिप्तत का पता लगाया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading