Home /News /uttar-pradesh /

Manish Gupta Murder Case: मनीष के दोस्तों से होगी पूछताछ, CBI ने लखनऊ दफ्तर पर बुलाया

Manish Gupta Murder Case: मनीष के दोस्तों से होगी पूछताछ, CBI ने लखनऊ दफ्तर पर बुलाया

UP: सीबीआई टीम दोबारा गोरखपुर जा सकती है. (File photo)

UP: सीबीआई टीम दोबारा गोरखपुर जा सकती है. (File photo)

UP News: सूत्र बताते हैं कि सीबीआई की नजर रामगढ़ताल थाने में उस वक्त तैनात रहे पुलिसकर्मियों के साथ ही इस केस से जुड़े 11 उन लोगों पर भी सीबीआई की नजर है, जिन्हें एसआईटी ने गवाह बनाया था. इन लोगों की पहले की और बाद की गतिविधियों पर भी सीबीआई पड़ताल कर रही है. इनमें से अभी कुछ लोगों से ही सीबीआई ने पूछताछ की है. अन्य से दूसरे राउंड में पूछताछ की तैयारी है.

अधिक पढ़ें ...

कानपुर. कानपुर (Kanpur) के कारोबारी मनीष गुप्ता हत्याकांड (Manish Gupta murder case) के मामले में सीबीआई ने शिकंजा कस दिया है. इस मामले में सीबीआई (CBI) ने मनीष के गुरुग्राम के दोनों दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह से लखनऊ में पूछताछ के लिए बुलाया है. सीबीआई ने दोनों दोस्तों को लखनऊ ऑफिस पर इसी सप्ताह बुलाया है. दरअसल हरबीर और प्रदीप एसआईटी की जांच से भागते रहे हैं. वहीं गोरखपुर में रहने वाले उसके दोस्त चंदन सैनी समेत छह अन्य लोगों को भी लखनऊ बुलाया जा सकता है.

गौरतलब है कि कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की 27 सितंबर की रात गोरखपुर के होटल में पिटाई की गई थी जिसमें उनकी मौत हो गई. इस मामले में मृतक के पत्नी की तहरीर पर तत्कालीन रामगढ़ताल थानेदार समेत 6 पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज किया गया था. पत्नी का आरोप है कि रात में पुलिस ने तलाशी के नाम पर उसके पति मनीष से बदसलूकी की. विरोध करने पर मनीष को बेरहमी से पीटा. इसमें उनकी मौके पर ही मौत हो गई. गोरखपुर पुलिस ने पहले पिटाई से मौत को खारिज किया, लेकिन जब मीनाक्षी गुप्ता ने इस पर विरोध दर्ज किया. शासन ने इस पर कार्रवाई की फिर पुलिस कर्मियों पर मुकदमा दर्ज हुआ था. इस मामले में पत्नी लगातार CBI जांच की मांग कर रही थी. बताया जा रहा है कि घटना से पहले सभी दोस्तों ने मनीष के साथ भोजन किया था. सीबीआई टीम दोबारा गोरखपुर जा सकती है.

हर एंगल पर CBI की जांच जारी
सीबीआई की नजर रामगढ़ताल थाने में उस वक्त तैनात रहे 11 पुलिसकर्मियों के साथ ही इस केस से जुड़े 11 उन लोगों पर भी सीबीआई की नजर है, जिन्हें एसआईटी ने गवाह बनाया था. इन लोगों की पहले की और बाद की गतिविधियों पर भी सीबीआई पड़ताल कर रही है. इनमें से अभी कुछ लोगों से ही सीबीआई ने पूछताछ की है. अन्य से दूसरे राउंड में पूछताछ की तैयारी है. उल्लेखनीय है कि मामले के तूल पकड़ने के बाद राज्य सरकार ने मनीष गुप्ता की पत्नी को सरकारी नौकरी के साथ ही आर्थिक सहायता भी दी थी. साथ ही केंद्र सरकार से सीबीआई जांच की अनुशंसा भी की थी. जिसके बाद सीबीआई ने मामले में जांच कर रही है.

Tags: CBI investigation, Gorakhpur Police, Kanpur news, Manish gupta murder case, Up crime news, UP police, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर