लाइव टीवी

अलग अंदाजः कानपुर में पहली बार सेल्फी लेते दिखे CM योगी आदित्यनाथ, देखें Video

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 12, 2019, 3:51 PM IST
अलग अंदाजः कानपुर में पहली बार सेल्फी लेते दिखे CM योगी आदित्यनाथ, देखें Video
कानपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ अलग ही अंदाज में नजर आए.

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के दौरे से पहले तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे थे सीएम योगी. अधिकारियों के साथ बैठक भी की.

  • Share this:
कानपुर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) का कानपुर (Kanpur) दौरा 14 दिसंबर को प्रस्तावित है. इस दौरे में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ तीन राज्यों के मुख्यमंत्री भी कानपुर पहुंचेंगे. पीएम के कार्यक्रम मे गंगा का निरीक्षण और इस पर चर्चा विशेष तौर पर की जानी है. इसी के चलते आज व्यवस्थाओं का जायजा लेने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) चंद्रशेखर आजाद यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, कानपुर पहुंचे. इसके बाद गंगा बैराज में गंगा निरीक्षण कर सीएम ने तैयारियों का जायजा लिया. इस दौरान सीएम योगी एक अलग की मूड में दिखे और अधिकारियों के साथ सेल्फी लेते नजर आए. उल्लेखनीय है कि यह पहला मौका है, जब सीएम योगी आदित्यनाथ सार्वजनिक तौर पर सेल्फी लेते नजर आए हैं. अपने निरीक्षण के बाद सीएम ने व्यवस्थाओं से जुड़े अधिकारियों संग बैठक भी की.

जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी शहर में नमामि गंगे की परियोजनाओं का हाल और उसमें गिर रहे नालों का जायजा ले सकते हैं. इसके लिए अभी से रूपरेखा तैयार होने लगी है. जिला प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री सीएसए में ही बैठक कर सकते है. यहां कितने लोग बैठ सकते हैं, इसका भी आंकलन किया गया है. यहीं से प्रधानमंत्री अटल घाट जाएंगे, जहां से नाव में बैठकर गंगा में गिर रहे नालों का हाल देख सकते हैं.

शासन ने आवंटित की थी जमीन
इससे पहले कानपुर के जाजमऊ में टेनरी के केमिकलयुक्त पानी के शोधन को 20 एमएलडी का ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित करने के लिए शासन ने भूमि आवंटन को मंजूरी दे दी है. अब प्रस्तावित स्थल पर पड़े टेनरियों के स्लज को निस्तारित करने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है. स्लज हटाने के बाद यहां निर्माण शुरू होगा. जबकि इस प्लांट के बन जाने के बाद कुंभ के समय भी टेनरियों को बंद करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

गंगा रहेगी साफ
ट्रीटमेंट प्लांट के बन जाने से टेनरी मालिकों को भी राहत मिलेगी और गंगा में जा रहे प्रदूषण पर भी पूरे तरीके से रोक लग सकेगी. जाजमऊ में 400 से अधिक टेनरियां हैं. वाजिदपुर में अभी 36 एमएलडी का कॉमन सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट है, इसमें टेनरियों के 9 एमएलडी का ट्रीटमेंट प्लांट है. जबकि टेनरी से इसका 3 गुना केमिकल युक्त पानी निकलता है. पानी अधिक और क्षमता कम होने की वजह से शोधन नहीं हो पा रहा था और इन टेनरियों को दिसंबर में कुंभ से पहले बंद कर दिया गया था.

इनपुट: अमित गंजू

ये भी पढ़ें: आगरा: ताजमहल को देखना होगा रोमांचकारी, ताज व्यू पॉइंट पर लगेंगे टेलीस्कोप

30 साल से फ्री की बिजली जला रहे 350 दुकानदार, अब जागा बिजली विभाग तो दिया नोटिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 3:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर