अपना शहर चुनें

States

उन्नाव कांड: बच्ची के इलाज के लिए KGMU के डॉक्टरों का दल कानपुर रवाना, सीएम योगी ने दिए निर्देश

बच्ची के इलाज के लिए KGMU के डॉक्टरों का दल कानपुर रवाना (File photo)
बच्ची के इलाज के लिए KGMU के डॉक्टरों का दल कानपुर रवाना (File photo)

रोशनी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां उसका इलाज इस समय कानपुर (Kanpur) के रिजेंसी में चल रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 19, 2021, 1:09 PM IST
  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने उन्नाव (Unnao) की घटना का संज्ञान लेते हुए अस्वस्थ बच्ची की बेहतर देखरेख हेतु केजीएमयू (KGMU) के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम कानपुर भेजने का निर्देश दिए हैं. वहीं सीएम के आदेश के बाद चिकित्सकों का दल कानपुर रवाना हो गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री ने कहा है कि अस्पताल में भर्ती पीड़िता का सरकारी खर्च पर बेहतर से बेहतर इलाज सुनिश्चित कराया जाए. सीएम योगी ने पीड़िता के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं. बच्ची की हालत अभी भी स्थिर बनी हुई है. डॉक्टरों के मुताबिक इन सभी बच्चियों को विषैला पदार्थ दिया गया है.

यूपी पुलिस महानिदेशक (DGP) हितेश चन्द्र अवस्थी ने बताया कि बेहोश बच्ची का उपचार कानपुर में चल रहा है और डॉक्टरों ने इसे सस्पेक्टेड केस ऑफ पोइजनिंग बताया है. घटनाक्रम की तफतीश के लिए फोरेंसिक एक्सपेर्ट की मदद ली जा रही है. मामले की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय पुलिस ने 6 टीमें गठित की हैं. सभी संभावनाओं के मद्देनजर वरिष्ठ अधिकारियों की देखरेख में घटना की जांच चल रही है.

ये है पूरा मामला
बता दें उन्नाव में असोहा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत पाठकपुर के मजरे बबुरहा में बुधवार दोपहर बाद 3 बजे के करीब कोमल पुत्री संतोष पासी उम्र 16 वर्ष, काजल पुत्री सूरजपाल पासी उम्र लगभग 13 वर्ष, रोशनी पुत्री सूर्य बली उम्र लगभग 17 वर्ष बबुरहा नाला के पास खेत में पशुओं के लिए चारा लेने गई थीं. देर शाम तक घर नहीं लौटीं. परिजन लड़कियों को खोजने के लिए निकले. परिजनों के मुताबिक खेत में तीनों लड़कियां कपड़े से बंधी मरणासन्न हालत में मिलीं.
तीनों किशोरियों को परिजनों ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र असोहा ले गए, जहां पर डॉक्टरों ने कोमल व काजल को मृत घोषित कर दिया. वहीं रोशनी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां उसका इलाज इस समय कानपुर के रिजेंसी में चल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज