लाइव टीवी

कोरोना वायरस ने उमरा पर लगाई रोक, जायरीन अब रिफंड के लिए परेशान
Kanpur News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 28, 2020, 8:07 PM IST
कोरोना वायरस ने उमरा पर लगाई रोक, जायरीन अब रिफंड के लिए परेशान
कोरोना वायरस के चलते विदेशों से आने वाले यात्रियों की पूरी स्क्रीनिंग की जा रही है

कानपुर से हर माह लगभग एक से डेढ़ हजार जायरीन उमरा के लिये जाते हैं. इसी तरह बड़ी संख्या में विजिट वीजा (visit visa) व टूरिस्ट वीजा (tourist visa) से यात्रा करते हैं. लेकिन सऊदी सरकार ने इन पर रोक लगा दी है...

  • Share this:
कानपुर. कोरोना वायरस (Corona virus) की दहशत, इसके चलते चीन में अब तक हजारों मौते हो चुकी हैं. पूरे विश्व में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट है बहुत से लोग इस वायरस से इफेक्टेड हैं. जनपद कानपुर में भी विदेशों से आने वाले हवाई यात्रियों की स्क्रीनिंग और ऑब्जरवेशन किया जा रहा है जिससे इसके वायरस की पहचान और रोकथाम हो सके. ऐसे में सऊदी सरकार (Saudi government) ने भी उमरा पर रोक लगा दी है.

वीजा पर रोक फ्लाइट्स कैंसिल
कानपुर से उमरा करने वाले जायरीनो की संख्या हजारों में है. उमरे पर रोक लगाये जाने के फैसले के बाद से जायरीन फिलहाल परेशान हैं क्योंकि इस उमरे के लिये वो काफी समय से इंतजार कर रहे थे. फिलहाल उमरे पर रोक लगाने के बाद से जिन लोगों ने इस लगभग 15 दिन के पैकेज के लिये रुपये जमा किये थे वो अब रिफंड के लिये परेशान है. साउदी सरकार ने टूरिस्ट व विजिट वीजा पर भी रोक लगा दी है. अगर कानपुर शहर की बात करें तो यहां से हर माह लगभग एक से डेढ़ हजार जायरीन उमरा के लिये जाते हैं. इसी तरह बड़ी संख्या में विजिट वीजा (visit visa) व टूरिस्ट वीजा (tourist visa) से यात्रा करते हैं. फिलहाल इस पर रोक लग जाने से और फ्लाइट्स के रद्द होने से उन्हे निराशा हाथ लगी है. उमरा के लिये बुकिंग करने वाले टूर और ट्रेवल्स एजेंसी भी परेशान हैं क्योंकि उनका भी कारोबार इस कोरोना वायरस से प्रभावित हुआ है. रजब से रमजान तक उमरा करने वालो की संख्या काफी ज्यादा होती है. उमरे का पैकेज लगभग 15 दिन का होता है. जिसमें लगभग 70 से 80 हजार रुपये तक का खर्चा आता है.

उमरे की तैयारी कर चुके चमनगंज निवासी मोहम्मद रईस इस बात से परेशान हैं कि वह फिलहाल उमरा करने नहीं लेकिन इस उमरे के लिये दिये गये रुपये कैसे वापस होगें इसकी जानकारी उन्हें नहीं है. वहीं डिफेंस कालोनी निवासी फैजल का कहना है कि सुरक्षा के मद्देनजर यात्रा रुकी है. परिवार के साथ उमरा करने जाना था. फिलहाल मुमकिन नही है, सउदी अरब सरकार के फैसले के बाद मैं और मेरा परिवार बड़ा निराश है. अवध टूर एंड ट्रेवल्स के मालिक सारिक अल्वी का कहना है कि साउदी अरब भेजने वाली एजेंसिया मुश्किल में आ गयी हैं. उनका कहना है कि सउदी अरब सरकार उमरा करने वालों की पूरी धनराशि अगर वापस नहीं करेगी तो जायरीनों का बड़ा नुकसान होगा.



ये भी पढ़ें- कानपुर में छात्रा की इंस्टाग्राम पर अश्लील फोटो वायरल करने वाले को पुलिस ने पकड़ा...


आजम खान की बहू ने कहा- 'जेल में मच्छर बहुत थे, रात भर वालिद सो न सके'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 8:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर