Home /News /uttar-pradesh /

Coronavirus: कोरोना के डर से पुराने कैदियों ने नए के खिलाफ खोला मोर्चा, एक ही बैरक में रहने से इंकार

Coronavirus: कोरोना के डर से पुराने कैदियों ने नए के खिलाफ खोला मोर्चा, एक ही बैरक में रहने से इंकार

कानपुर जेल में नए और पुराने कैदियों की अलग रहने की व्यवस्था की गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कानपुर जेल में नए और पुराने कैदियों की अलग रहने की व्यवस्था की गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Coronavirus: कानपुर जेल में पुराने कैदियों ने एक बैठक की और एक सुर में नए कैदियों के साथ रहने से इंकार कर दिया. ऐसे में जेल प्रशासन को वैकल्पिक व्‍यवस्‍था करनी पड़ी.

कानपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) की दहशत आम आदमी के चहरे पर साफ तौर पर देखी जा सकती है. स्वास्थ्य महकमे ने टास्क फोर्स का गठन किया और 200 से ज्यादा लोगों की अभी तक जांच हो चुकी है. हालांकि, अभी तक कोरोना वायरस का कोई भी मरीज कानपुर में नहीं मिला है. हालांकि, कानपुर जेल में (Kanpur Jail) कोरोना वायरस को लेकर कैदियों में भी खौफ है. जानकारी के मुताबिक, जेल में पहले से बंद कैदियों ने नए बंदियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. पुराने कैदियों का मानना है कि वे चूंकि जेल में पहले से बंद हैं, इसलिए वे कोरोना वायरस से वे संक्रमित नहीं हो सकते. वहीं, नए कैदियों में कोरोना वायरस के संक्रमण की बहुत ज्यादा आशंका है.

हालात को देखते हुए जेल अधीक्षक आशीष तिवारी ने पहले कैदियों को समझाने का प्रयास किया. पुराने कैदियों का यह मानना है कि जो नए कैदी या पेशी से जेल लौट रहे हैं, वे कई लोगों के संपर्क में आ रहे हैं. ऐसे में कहीं वह भी संक्रमित न हो जाएं.

नये बंदियों के लिए अलग बैरक की व्यवस्था की गई
पेशी पर आए उदय ने बताया दो दिन तक चली खींचतान के बाद नए बंदियो के लिए अलग बैरक की व्यवस्था की गई है. दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के बारे में जानकारी मिलते ही सजायाफ्ता कैदियों ने नये बंदियों को खुद से दूर रखने की मांग की थी. इस मसले पर पुराने कैदियों की जेल के अंदर एक बैठक भी हुई. इस बैठक में सभी कैदियों ने एक सुर से इस बात पर सहमति जताई थी कि वे नए बंदियों के साथ नहीं रहेंगे. कैदियों को फिलहाल शांत तो करा दिया गया है.

बिना मास्क के जेल में नहीं घूम सकता है कोई कैदी
जेल प्रशासन ने इसी क्रम में नई व्यवस्था लागू की है, जिसमें स्पेशल बैरक में मुलाकात करने वालों और पुराने कैदियों से मुलाकात करने वालों की जालियां अलग बनाई गई हैं. यहां तक कि जेल सुप्रीटेंडेंट आशीष ने यह बताया कि बिना मास्क के कोई भी कैदी चाहे वह नया हो या फिर पुराना, जेल में नहीं घूम सकता है.

शौचालयों के बाहर साबुन रखवाए गए
जेल प्रशासन द्वारा बैरक से लेकर जेल परिसर तक में सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है. जेल मे सेनिटाइजर मुहैया कराना हर कैदी के लिए मुश्किल है. विकल्प के तौर पर हर बैरक के बाहर बने शौचालयों मे साबुन रखवायी गई है. यहां तक कि कोरोना वायरस का खौफ बंदियो में और कर्मचारियों मे भी देखने को मिल रहा है. स्वास्थ्य विभाग से जारी की गई एडवाइजरी जेल की दीवारों पर भी चिपकाई गई है.

ये भी पढ़ें: यूपी में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 13 पहुंची, 18 नए संदिग्ध मिले

Covid 19: नोएडा, लखनऊ, गाजियाबाद में मल्टीप्लेक्स, क्लब और जिम बंद

आपके शहर से (कानपुर)

कानपुर
कानपुर

Tags: Central Jail, Corona Virus, Kanpur news, Uttar pradesh news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर