COVID-19: इजरायली यात्रियों के छींकने पर मचा हड़कंप, रोकी गई राजधानी एक्सप्रेस
Kanpur News in Hindi

COVID-19: इजरायली यात्रियों के छींकने पर मचा हड़कंप, रोकी गई राजधानी एक्सप्रेस
राजधानी एक्सप्रेस में में मिले 11 लोग संक्रमित

यात्रियों के विरोध के बाद राजधानी एक्सप्रेस को कानपुर में रोका गया जहां डॉक्टरों की टीम ने दोनों इजरायली नागरिकों का स्कैनिंग की. लेकिन उनमें कोरोना वायरस की बात सामने नहीं आई. किसी वजह से खांसी आयी थी, जिसके लिए उन्हें दवाई भी दी गई. लेकिन डॉक्टरों की जांच के बाद जब दोनों को कोच में भेजा गया तो अन्य यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया

  • Share this:
कानपुर. महामारी घोषित कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर जहां एक ओर अधिकारियों ने एहतियात बरतने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं तो अब इसकी दहशत आम आदमी के चेहरे पर भी देखी जा सकती है. जहां अब लोग खुद मास्क लगा कर चलने लगे हैं, वहीं कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज की आशंका पर लोग हंगामा भी करने लगे हैं. इसकी बानगी उस वक्त देखने को मिली जब दिल्ली से गुवाहाटी जा रही है डिबरुगढ़ राजधानी एक्सप्रेस (Rajdhani Express) के कोच संख्या बी10 में यात्रा कर रहे दो विदेशी नागरिकों के छींकने से हड़कंप मच गया. इससे नौबत ट्रेन को रोकने तक की आन पड़ी.

कानपुर में रोकी गई ट्रेन

दरअसल, यात्रा के दौरान दोनों यात्रियों के छींकने और खांसने पर उसी कोच में बैठे यात्री प्रदीप ने यह जानने की कोशिश की कि वो किस देश के हैं. जब उन्हें पता चला कि दोनों इजरायल के हैं और गुवाहाटी तक जा रहे हैं. जिसके बाद बी 10 कोच में सफर कर रहे अन्य लोगों के बीच हड़कंप मच गया. इसी बीच किसी यात्री ने स्वास्थ्य मंत्रालय की हेल्पलाइन पर फोन कर दिया. जिसके बाद जैसे ही ट्रेन भाऊपुर स्टेशन पहुंची तो यात्रियों ने चेन पुलिंग करने का प्रयास किया. मगर कोच में मौजूद एटेंडेंट शोभित ने यात्रियों को समझा-बुझाकर कानपुर में ट्रेन के ठहराव (स्टॉप) के दौरान उन विदेशी यात्रियों को उतरवाने की बात कही.



जांच में नहीं मिला कोरोना वायरस
जैसे ही ट्रेन कानपुर सेंट्रल पहुंची तो बी 10 कोच के बाहर पहले से डॉक्टरों की टीम मौजूद थी. डॉक्टरों के साथ जीआरपी और आरपीएफ व रेलवे के अधिकारी भी साथ में मौजूद थे. सीएमओ अशोक शुक्ला ने बताया कि रैपिड रिस्पांस टीम और डॉक्टरों की टीम ने थर्मल स्कैनर के माध्यम से दोनों विदेशी यात्रियों का टेस्ट किया. हालांकि स्कैनिंग में उनमें कोरोना वायरस की बात सामने नहीं आई. किसी वजह से खांसी आयी थी, जिसके लिए उन्हें दवाई भी दी गई. लेकिन डॉक्टरों की जांच के बाद जब दोनों को कोच में भेजा गया तो अन्य यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया. यात्रियों ने दोनों को गुवाहाटी राजधानी एक्सप्रेस के बी 10 कोच में सवार होने नहीं दिया. इसके बाद रेलवे के अधिकारियों ने दोनों को पैंट्री कोच में बिठाया और ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया.

ये भी पढ़ें: COVID-19: विश्वनाथ मंदिर में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, भक्त हो रहे सेनिटाइज

Corona Virus का खौफ: लखनऊ में 23 मार्च तक चिड़ियाघर बंद करने का फैसला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading