लाइव टीवी

कानपुर के इतिहास में पहली बार मैच से पहले कोयले वाली प्रेस से सुखाई क्रिकेट पिच
Kanpur News in Hindi

Amit Ganjoo | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 20, 2020, 11:09 PM IST
कानपुर के इतिहास में पहली बार मैच से पहले कोयले वाली प्रेस से सुखाई क्रिकेट पिच
कोयले वाले प्रेस से क्रिकेट की पिच सुखाई गई है.

BCCI से हर साल 25 से 30 करोड़ रुपये संसाधनों के लिए मिलने के बावजूद यूपीसीए (UPCA) के कर्मचारियों द्वारा गीले मैदान को सुखाने के लिए कोयले की प्रेस का इस्‍तेमाल करने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
कानपुर. बीसीसीआई (BCCI) को पूरे विश्व में सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड माना जाता है, ऐसे में इसके पास संसाधनों की भी कोई कमी नहीं है. लेकिन, बीसीसीआई के कूचबिहार ट्रॉफी मुकाबले में हैरान करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं. यहां ग्राउंड्समैन कपड़े प्रेस करने वाली कोयले की प्रेस से गीली पिच को सुखाते देखे गए. ये हाल उस कमला क्लब मैदान का है, जिसे पूरी तरह फिट बताकर ग्रीनपार्क से वहां मैच शिफ्ट किया गया था.

दरअसल, कानपुर के कमला क्लब क्रिकेट ग्राउंड पर यूपी और दिल्ली के बीच कूचबिहार ट्रॉफी का मैच चल रहा है, लेकिन मैच से पहले सोमवार सुबह से ही ग्राउंड्समैन मुख्य विकेट को आयरन से सुखाते रहे. वहीं, अन्य कर्मी कीचड़ को बालू से ढंकते दिखे. बीसीसीआई से हर साल 25 से 30 करोड़ संसाधनों के लिए मिलने के बावजूद यूपीसीए (UPCA) के इस ग्राउंड में बारिश के कारण गीले मैदान को सुखाने के लिए कानपुर के इतिहास में पहली बार कोयले के प्रेस से पिच सुखाने का प्रयास करने का मामला सामने आया है.

कुछ भी बोलने से बचते हरे अधिकारी
इसका प्रयोग क्रिकेट के शुरुआती दिनों में होता था, जब बुहत संसाधन नहीं थे. आज बीसीसीआई ने यूपीसीए को एक सुपर सॉपर, ड्रायर, एयर ब्लोअर, कट ग्रास, सवा डस्ट जैसे आधुनिक संसाधन मैदान और विकेट सुखाने के लिए दे रखे हैं. इस मामले में यूपीसीए का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से बचते नजर आ रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

उत्तराखंड के कांग्रेसी पार्षद को गाजियाबाद में छोड़कर फरार हुए बदमाश, मांगी थी 40 लाख की फिरौती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 10:14 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर