होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Good News: कानपुर के हैलट अस्पताल में नेत्र बैंक बनाने की तैयारी, मरीजों को मिलेगी बड़ी राहत

Good News: कानपुर के हैलट अस्पताल में नेत्र बैंक बनाने की तैयारी, मरीजों को मिलेगी बड़ी राहत

Kanpur News: कानपुर और आसपास के जिले के लोग यहां पर आकर अपनी आंखों का इलाज करा सकेंगे. इसके अलावा जो दिव्यांग हैं वो ट् ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: अखंड प्रताप सिंह

कानपुर. कानपुर और आसपास के जनपदों के लिए एक अच्छी खबर है. अब कानपुर में उन्हें आंख से जुड़ी सारी सुविधाएं कुछ दिनों में मिलने लगेंगी. अभी तक आंख के लोगों का इलाज तो यहां मिल जाता था, लेकिन नेत्रहीनों को रोशनी देने में काफी समस्या आती थी. क्योंकि ब्लाइंडनेस को दूर करने के लिए कॉर्निया की जरूरत पड़ती थी. लेकिन कॉर्निया को संरक्षित करने के लिए यहां पर कोई इंतजाम नहीं थे. जिस वजह से यह ट्रांसप्लांट नहीं हो पाती थी. लेकिन अब यह मुमकिन हो पाएगा क्योंकि, कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत हैलट अस्पताल में 80 लाख रुपए की लागत से एक नेत्र बैंक बनने जा रहा है.

प्रदेश के नेत्रहीन अब दुनिया देख सकेंगे
जी हां, यह मुमकिन हो पाएगा कानपुर में बनने जा रहे कॉर्निया बैंक से. अभी तक कानपुर और आसपास के जनपदों में कॉर्निया ट्रांसप्लांट की सुविधा नहीं थी. लेकिन जब कानपुर के हैलट अस्पताल में यह बैंक बनकर तैयार हो जाएगा. तब यहां पर कॉर्निया ट्रांसप्लांट होंगे. कानपुर और आसपास के जिले के लोग यहां पर आकर अपनी आंखों का इलाज करा सकेंगे. इसके अलावा जो दिव्यांग हैं वो ट्रांसप्लांट के बाद दुनिया देख सकेंगे.

15 दिन तक संभाल कर रखी जाएगी कॉर्निया
जो लोग अपनी नेत्र दान करते हैं. उनकी मृत्यु के उपरांत अभी तुरंत कॉर्निया ट्रांसप्लांट करनी पड़ती है. लेकिन ऐसा नहीं हो पाता है क्योंकि जिसको कॉर्निया की जरूरत होती है वह तुरंत नहीं आ पाते हैं. जिस वजह से कॉर्निया बर्बाद चली जाती है. जब बैंक बनकर तैयार हो जाएगा. तब यहां पर कॉर्निया 15 दिनों तक संरक्षित रखी जा सकेंगी.

कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. संजय काला ने बताया कि उन्होंने कानपुर के कमिश्नर डॉ. राजशेखर से यहां पर नेत्र बैंक बनाने के बारे में कहा था. जिसके  बाद उनके द्वारा तुरंत कानपुर स्मार्ट सिटी के तहत ₹40 लाख इस बैंक के लिए दिए गए हैं. वहीं रोटरी क्लब भी 40 लाख रुपए इस बैंक के लिए दे रहा है.

जिससे 80 लाख रुपए से यहां पर एक अत्याधुनिक नेत्र बैंक बनकर तैयार होगा. इस बैंक को एक साल में बनाने का लक्ष्य रखा गया है.

Tags: Eye Donation, Kanpur news, UP news, Yogi government

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें