कानपुर: मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे के समर्थन में फेसबुक पेज चलाने वालों पर दर्ज होगी FIR

विकास दुबे को यूपी एसटीएफ ने मुठभेड़ में मार गिराया था.

विकास दुबे को यूपी एसटीएफ ने मुठभेड़ में मार गिराया था.

फेसबुक पर गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) के समर्थन में चलने वाले पेजों के बारे में जानकारी जुटायी जा रही है. साथ ही उनके एडमिन का पता लगाकर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की रूपरेखा तैयार की गयी है. इसके साथ ही पेज को ब्लॉक करने की प्रक्रिया को भी अमल में लाया जाएगा.

  • Share this:
कानपुर. कानपुर (Kanpur) के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में 8 पुलिसकर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey) एंड कंपनी का खत्म हो चुका है. विकास दुबे समेत उसके पांच सहयोगी एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं जबकि अन्य सलाखों के पीछे हैं. अब सोशल मीडिया पर कुख्यात विकास दुबे का महिमामंडन करने वाले उसके समर्थकों के खिलाफ एक्शन के लिए पुलिस (Police) ने कमर कस ली है. फेसबुक पर गैंगस्टर के समर्थन में चलने वाले पेजों के बारे में जानकारी जुटायी जा रही है. साथ ही उनके एडमिन का पता लगाकर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की रूपरेखा तैयार की गयी है. इसके साथ ही पेज को ब्लॉक करने की प्रक्रिया को भी अमल में लाया जाएगा.

विकास दुबे के समर्थन में चल रहे 11 फेसबुक पेज

आपको बता दें कि बिकरू कांड के मास्टरमाइंड विकास दुबे के समर्थन में 11 फेसबुक पेज चल रहे हैं. जिनमें से एक पेज 'मैं विकास दुबे कानपुर वाला फैंस क्लब' में 8000 से ज्यादा सक्रिय सदस्य हैं. इन पेजों को ब्लॉक करने का काम साइबर सेल को सौंपा गया है. पुलिस को आशंका है कि पेज बनाने वाले एडमिन ने अपना नाम फर्जी रखा है. इस कारण साइबर सेल के साथ-साथ सर्विलांस सेल को भी एडमिन के बारे में जानकारी जुटाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. वहीं साइबर सेल को निर्देश दिए गए हैं कि वह फेसबुक पर विकास दुबे के समर्थन में चल रहे हैं उनका पूरा डाटा तैयार करें. कंपनी से संपर्क करने की कार्रवाई कर इन पेज को ब्लॉक कराया जाए.

पुलिस ने कही ये बात
एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि विकास दुबे को सोशल मीडिया पर महिमामंडित करने की कोशिश की जा रही है. इसका संज्ञान इया गया है. इसके लिए एक सर्विलांस टीम का गठन किया गया है. फेसबुक पेज पर कुछ आपत्तिजनक पोस्ट भी किए गए हैं. उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर एक अपराधी का महिमामंडन नहीं होने दिया जाएगा और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज