कानपुर देहात: बबली बनकर अलीगढ़ की शिक्षका अनामिका शुक्ला ने ऐसे लगाया चूना
Kanpur News in Hindi

कानपुर देहात: बबली बनकर अलीगढ़ की शिक्षका अनामिका शुक्ला ने ऐसे लगाया चूना
बली बनकर अलीगढ़ की शिक्षका अनामिका शुक्ला ने ऐसे लगाया चूना

कानपुर देहात में भी अनामिका शुक्ला (Anamika Shukla) का फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद जिले का शिक्षा विभाग सक्रिय हो गया है. विभाग ने कस्तूरबा गांधी विद्यालय के समस्त कर्मचारियों और शिक्षकों की जांच शुरू कर दी है.

  • Share this:
कानपुर देहात. अनामिका शुक्ला (Anamika Shukla) के नाम पर 25 जिलों के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय (KGBV) में काम करने वाली फर्जी शिक्षिकाओं (Fake Teachers) का मकड़जाल यूपी के कानपुर देहात में भी देखने को मिला. यूपी के शिक्षा विभाग को हिला देने वाली अनामिका ने कानपुर देहात के ग्रामीण इलाके में ससुराल बताकर शिक्षा विभाग को चुना लगाया. अनामिका शुक्ला ने कानपुर देहात के रसूलाबाद में ससुराल बताकर फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनवाया. जिसके माध्यम से उसने जनसेवा केंद्र के माध्यम से बैंक में खाता खोलकर शिक्षा विभाग में उसको पंजीकृत करा दिया और विभाग से इसी खाते के माध्यम से वेतन भी उठाया.

इसका खुलासा फर्जी तरीके के शिक्षा विभाग को चूना लगाने वाली अनामिका के पकड़े जाने के बाद पुलिस जांच में हुआ. जिसके बाद अलीगढ़ पुलिस कानपुर देहात पहुंची और बैंक मैनेजर सहित ग्रामीणों से भी पूछताछ की. साथ ही बैंक से खाते को सील करते हुए दस्तावेज एकत्र कर ले गई. कानपुर देहात में भी अनामिका शुक्ला का फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद जिले का शिक्षा विभाग सक्रिय हो गया है.  विभाग ने कस्तूरबा गांधी विद्यालय के समस्त कर्मचारियों और शिक्षकों की जांच शुरू कर दी है. जनपद कानपुर देहात के शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया.

यूपी के शिक्षा विभाग के कई कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में फर्जी तरीके से एक साथ नौकरी करने वाली अनामिका शुक्ला के फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद शिक्षा विभाग ने अलीगढ़ में पुलिस को शिकायत दर्ज कराते हुए कार्रवाई की मांग की थी. जिसके बाद अलीगढ़ पुलिस ने जांच शुरू कर दी थी. जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ी तो सबके होश उड़ गए. पुलिस जांच में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ. जांच में अनामिका कई विद्यालयो में फर्जी तरीके से नौकरी करने के साथ वेतन भी उठा रही थी. जिसके तार यूपी के जनपद कानपुर देहात के रसूलाबाद तक पहुंच गए.



क्योंकि अनामिका ने अपनी नौकरी में कानपुर देहात के रसूलाबाद में स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का बैंक खाता खुलवाया था. जिसमे से कई बार वेतन भी आया जिसको ऑनलाइन तरीके से विड्रॉल भी करा लिया था. पुलिस जांच में बैंक के खाते में उसका नाम अनामिका पत्नी हरिओम निवासी रसूलाबाद के चन्दनपुरवा लिखा मिला. लेकिन फोटो अलग थी. जिसके बाद पुलिस ने गांव पहुचकर जांच की तो लोगों ने फोटो की पहचान बबली के रूप में की.
ये भी पढ़ें:

मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव को योगी सरकार ने दी 'Y' श्रेणी सुरक्षा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज