अपना शहर चुनें

States

यूपी में बर्ड फ्लू का पहला केस मिला, कानपुर चिड़ियाघर को 15 दिनों के लिए बंद करने का आदेश

कानपुर जू में मृत मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद चिड़ियाघर को 15 दिनों के लिए बंद करने का आदेश.
कानपुर जू में मृत मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद चिड़ियाघर को 15 दिनों के लिए बंद करने का आदेश.

Bird Flu in UP: कानपुर चिड़ियाघर में 4 दिन पहले मुर्गियों और हीरामन तोतों की मौत के बाद जांच के लिए भोपाल के लैब में भेजे गए थे सैंपल. यूपी सरकार ने बीमारी से बचाव के दिशा-निर्देश जारी किए.

  • Share this:
लखनऊ. आखिरकार यूपी में भी बर्ड फ्लू (Bird Flu in UP) आ ही गया. पहला केस कानपुर से सामने आया है. 4 दिन पहले कानपुर जूलॉजिकल पार्क (Kanpur Zoo) में जिन मुर्गियों की मौत हुई थी, उनमें बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान (नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हाई रिस्क एनिमल डीजीजेजे) ने बर्ड फ्लू की पुष्टि कर दी है. इसे देखते हुए कानपुर चिड़ियाघर को 15 दिनों के लिए बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं.

पशुपालन विभाग के रोग नियंत्रण निदेशक डॉ. रामपाल सिंह ने न्यूज़ 18 को बताया कि भोपाल से रिपोर्ट मिलने के साथ ही इस पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है. चिड़ियाघर के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि जिस पिंजड़े में पल रही मुर्गियों की बर्ड फ्लू से मौत हुई है, उसके 1 किलोमीटर के दायरे में आने वाली सभी पक्षियों को जल्द से जल्द बर्ड फ्लू प्रोटोकॉल के हिसाब से दफना दिया जाए.

बता दें कि 4 दिन पहले कानपुर चिड़ियाघर में चार जंगली मुर्गियों और चार हीरामन तोतों की मौत हो गई थी. यह सभी पिंजरे में बंद पक्षी थे. इन्हीं में से मृत मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. इसके अलावा सोनभद्र, बाराबंकी, अयोध्या और झांसी में कौवे मृत पाए गए थे. इनका सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजा गया है. इसकी रिपोर्ट आने में एक-दो दिन का समय लग सकता है.



जिस तरह से राज्य दर राज्य बर्ड फ्लू अपने पैर पसार रहा है, उसे देखते हुए पहले ही यूपी सरकार ने बचाव के दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं. चिड़ियाघरों में मांसाहारी जानवरों के खाने के लिए लाई जाने वाली मुर्गियों को प्रतिबंधित कर दिया गया है. साथ ही अलग-अलग जगहों से चिड़ियों की बीट और उनके रिहायश की मिट्टी को जांच के लिए भेजा जा रहा है.
बता दें कि कई राज्यों में बर्ड फ्लू ने अपने पैर पसार दिए हैं. इनमें ज्यादातर प्रवासी पक्षियों और कौवों की मौतें हुई हैं. यूपी में पोल्ट्री फार्म की मुर्गियों में बर्ड फ्लू के फैलने की अभी कोई खबर सामने नहीं आई है. सबसे पहले न्यूज़ 18 ने ही कानपुर चिड़ियाघर में 4 पक्षियों की मौत होने और बर्ड फ्लू की जांच के लिए उनके सैंपल भोपाल भेजनेे की खबर का खुलासा किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज