लाइव टीवी

कानपुर में गैंगरेप की शिकार 8वीं की छात्रा ने लगाई फांसी, पुलिस पर लगे गंभीर आरोप

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2019, 7:02 PM IST
कानपुर में गैंगरेप की शिकार 8वीं की छात्रा ने लगाई फांसी, पुलिस पर लगे गंभीर आरोप
कानपुर में एक गैंगरेप पीड़िता आठवीं की छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

गांव के 3 युवकों ने नाबालिग लड़की का अपहरण किया और बंधक बनाकर उसके साथ 3 दिन तक गैंगरेप किया था. लड़की के पिता ने बताया कि जब गायब बेटी की गुमशुदगी रूरा थाने में दर्ज कराई, तब उन्होंने लड़की को छोड़ दिया.

  • Share this:
कानपुर देहात. उत्तर प्रदेश में उन्नाव गैंगरेप पीड़िता (Gang rape Victim) की मौत के बाद सियासी पारा चढ़ा हुआ है. इस बीच कानपुर (Kanpur ) से दुखद खबर आई है. यहां एक नाबालिग गैंगरेप पीड़िता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. इस मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे हैं. आरोप है कि कानपुर देहात की रहने वाली इस लड़की के केस में पुलिस ने करीब महीने भर से आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया. परेशान होकर पीड़िता ने अपनी बहन के घर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उधर घटना से पीड़िता के पूरे गांव में रोष है.

3 युवकों ने नाबालिग लड़की का अपहरण
बता दें बीती 13 नवम्बर को गांव के 3 युवकों ने नाबालिग लड़की का अपहरण किया और बंधक बनाकर उसके साथ 3 दिन तक गैंगरेप किया था. लड़की के पिता ने बताया कि जब गायब बेटी की गुमशुदगी रूरा थाने में दर्ज कराई, तब उन्होंने लड़की को छोड़ दिया. लड़की ने घर जाकर पूरी बात बताई, तब परिजनों ने पुलिस से शिकायत की. पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर पीड़िता के बयान भी कोर्ट में करा दिया. लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की. जिसके चलते आरोपियों के परिजन पीड़िता और उसके परिवार वालों पर दबाव बना रहे थे. परेशान होकर आखिरकार पिछले दिनों परिजनों ने पीड़िता को उसकी बहन के घर कानपुर के चौबेपुर भेज दिया था. आरोपियों पर कार्रवाई नहीं होने से कक्षा 8 की छात्रा ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी.

आरोपी दे रहे थे धमकी तो परिजनों ने पीड़िता को भेजा कानपुर नगर

आरोप है कि नाबालिग छात्रा को गांव के ही दबंग सन्नी लाला और रिंकू ने अपहरण कर बंधक बनाया और 3 दिन तक गैंगरेप किया. इस बीच 16 नवम्बर को पुलिस ने 363 ओर 366 की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया यानी सिर्फ अपहरण का मामला. आरोपी गांव में घूम-घूमकर धमकियां देते रहे लिहाज़ा डर और खौफ के साए में जी रही पीड़िता 6 दिन पहले कानपुर नगर अपनी बहन के घर रहने चली गई.
लड़की के रिश्तेदारों के अनुसार पुलिस ने न तो गैंगरेप की धाराओं में एफआईआर दर्ज की, न ही आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई की. आखिरकार पुलिसिया कार्यशैली से परेशान होकर गैंगरेप पीड़िता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

गांव वालों ने रूरा थाने की पुलिस को बताया जिम्मेदारइसके बाद परिजन नाबालिग बेटी की लाश लेकर घर पहुंचे तो गांव में मासूम बेटी की लाश देख कर कोहराम मच गया. गांववालों ने आरोप लगाया है कि मासूम की मौत की ज़िम्मेदार रूरा थाने की पुलिस है. अगर पुलिस समय रहते गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज देती तो मासूम आत्महत्या नहीं करती. मासूम की मौत से आहत लोग हैदराबाद की तरह वहशी दरिंदों को ऑन द स्पॉट फैसला चाहते है.

गांव की बेटियां को स्कूल जाने में लग रहा डर
इस घटना से गांव की बेटियां दहशतज़दा हैं. वह कह रही हैं कि उनके दिलों में खौफ बैठ गया है. कालेज-स्कूल आने जाने में डर लगता है. वो भी चाहती हैं कि जिस तरह हैदराबाद की बहन को न्याय मिला उसी तरह इस बहन को भी न्याय मिलना चाहिए. अगर लेट लतीफी होगी तो वहशी कोर्ट कचहरी कर के बच जाएंगे.

SP Kanpur Dehat
कानपुर देहात के एसपी अनुराग वत्स


पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है: एसपी कानपुर देहात
मामले में कानपुर देहात के एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि 16 नवंबर को पुलिस ने 363, 366 में मुकदमा दर्ज किया है. इसमें लड़की के पिता ने नामजद शिकायत की थी. तीन दिन बाद लड़की बरामद हुई तो तत्काल पुलिस ने सभी तकनीकी कार्रवाई की. इस दौरान जो भी धाराएं बढ़ रही थीं, पुलिस ने तत्काल इसे केस में बढ़ाया. इसके बाद अभियुक्तों को पकड़ने की दबिश दी गई है. उन्होंने कहा कि लड़की और आरोपी एक ही गांव के हैं और पड़ोसी हैं. पता चला है कि लड़की ने सुसाइड कर लिया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है, जो भी तथ्य निकलकर आएंगे, उसके आधार पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.

इनपुट: श्याम तिवारी/सौरभ मिश्रा

ये भी पढ़ें:

पीड़ित परिवार से मिले साक्षी महाराज, कहा-उन्नाव का नाम खराब किया, बख्शेंगे नहीं

उन्नाव का दहलाने वाला सच- 11 महीने में 86 रेप की घटनाएं, 185 छेड़छाड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 6:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर