कानपुर में हॉस्टल के कमरे में फंदे से लटकता मिला छात्रा का शव

दिनभर छात्रा के कमरे से कोई आहट न मिलने पर साथी छात्राओं ने दरवाजा खोलने की कोशिश की. बाद में दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुए तो छात्रा फांसी से लटकती मिली.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 12, 2018, 10:56 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 12, 2018, 10:56 AM IST
कानपुर में एक गर्ल्स हॉस्टल से बायोटेक फर्स्ट ईयर की छात्रा की लाश मिलने से इलाके में हड़कंप मचा हुआ है. कमरे से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ, जिसमें छात्रा ने पढ़ाई के दबाव में आकर खुदकुशी की बात कही है. मामले की जांच चल रही है.

भविष्य, पढ़ाई का बोझ और परिवार की उम्मीदों की वजह से विद्यार्थी लगातार दबाव में जी रहे हैं. इसे न झेल पाने की वजह से कई लोग आत्महत्या तक का कदम उठा लेते हैं. ऐसा ही एक मामला कानपुर से सुनने में आ रहा है. यहां छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय की बीएससी की छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. छात्रा मूल रूप से बिहार की रहने वाली थी, जो हॉस्टल के कमरा नंबर 303 में रह रही थी. पिता सरकारी नौकरी में कन्नौज में कार्यरत हैं.

मंगलवार देर शाम तक छात्रा के कमरे में कोई आवाज न होने और दिनभर कमरा बंद रहने पर साथ की लड़कियों ने छात्रा को आवाज दी. फिर भी दरवाजा न खुलने पर उन्होंने वॉर्डन को खबर की. कमरे के भीतर दाखिल होने पर पाया गया कि छात्रा का शव फांसी से लटका हुआ है. यहां पर एक सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें पढ़ाई के बोझ की वजह से आत्महत्या की बात कही गई थी. मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. (रिपोर्ट- श्याम तिवारी)

ये भी पढ़ें-

SC/ST एक्ट में बिना नोटिस गिरफ्तारी नहीं, 7 साल से कम सजा वाले मामले में नियम लागू

10वीं पास ले सकते हैं गैस सिलेंडर की एजेंसी, ये है अप्लाई करने का तरीका 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर