IIT कानपुर का मिशन भारत ऑक्सीजन का ऐलान, जून तक 30,000 कंसन्ट्रेटर तैयार करने का लक्ष्य

आईआईटी कानपुर में मिशन भारत ऑक्सीजन शुरू किया है.

आईआईटी कानपुर में मिशन भारत ऑक्सीजन शुरू किया है.

Kanpur News: निदेशक फर्स्ट,आईआईटी कानपुर श्रीकांत शास्त्री ने कहा कि मिशन भारत ऑक्सीजन के तहत हम देश के विभिन्न एमएसएमई और स्टार्टअप के उत्पादकों को आमंत्रित कर रहे हैं, जो ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के उत्पादन को बढावा दें.

  • Share this:

कानपुर. देश में कोरोना (COVID-19) की बेलगाम रफ्तार के बीच ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Crisis) संक्रमितों का दम फुला रही है. मरीज के तीमारदारों के लिए ऑक्सीजन का इंतजाम करना सबसे बड़ी समस्या बन कर सामने आया है. आईआईटी, कानपुर (IIT-K) ने देश की इस समय की सबसे बड़ी समस्या के निदान के लिए पहल की है. आईआईटी कानपुर इन्क्यूबेटर सेंटर ने मिशन भारत ऑक्सीजन की घोषणा की है. इसके तहत आईआईटी में स्थित इन्क्यूबेटर सेंटर ने जून तक 20 से 30 हजार अत्याधुनिक ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर तैयार करने का लक्ष्य रखा है.

इस अभियान के लिए आईआईटी की तरफ से देश के लघु उद्योग और स्टार्टअप कम्पनियों के उत्पादकों से आवाहन किया गया है. जिन्हें आईआईटी इन्क्यूबेटर सेंटर रॉ मैटेरियल, फंडिग, मार्केटिंग और तकनीकी सहयोग उपलब्ध कराएगा. निदेशक फर्स्ट,आईआईटी कानपुर श्रीकांत शास्त्री ने कहा कि पिछले साल कोरोना काल में देश को वेंटिलेटर की सबसे ज्यादा जरूरत थी. आईआईटी कानपुर के इन्क्यूबेटर ने एक 20 सदस्यीय टास्क फोर्स का गठन किया था. जिसने तीन महीने के भीतर वर्ल्ड क्लास पोर्टेबल वेंटीलेटर निर्माण किया था. जो देश के 1200 से अधिक अस्पतालों के आईसीयू रूम में लगाए जा चुके हैं.

Youtube Video

इस साल कोरोना की दूसरी वेव के समय देश में ऑक्सीजन की सबसे बड़ी समस्या है. जिसके चलते इस आईआईटी के इन्क्यूबेटर ने मिशन भारत ऑक्सीजन की घोषणा की है. यहां पर देश के विभिन्न एमएसएमई और स्टार्टअप के उत्पादकों के सामने हम खुली चुनौती रख रहे हैं. हम देश भर से ऐसे उत्पादकों को आमंत्रित कर रहे हैं, जो ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के उत्पादन को बढावा दें. इन्हें हम कच्चा माल देंगे, उन्हें फंडिंग उपलब्ध कराएंगे. इसके साथ ही उत्पाद की मार्केंटिंग के साथ तकनीकी सहयोग भी देंगे. जिससे देश के लोगों की जान बचाने के लिए जून महीने तक 20 से 30 हजार ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर तैयार किए जा सकें. आपको बता दें कि पिछले साल आईआईटी ने पोर्टेबल वेंटीलेटर के साथ ही अत्याधुनिक एन-95 मास्क का बडे पैमाने पर उत्पादन किया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज