Home /News /uttar-pradesh /

IIT कानपुर की चेतावनी: विकराल रूप लेगी कोरोना की तीसरी लहर,दिल्ली होगी सबसे ज्यादा प्रभावित

IIT कानपुर की चेतावनी: विकराल रूप लेगी कोरोना की तीसरी लहर,दिल्ली होगी सबसे ज्यादा प्रभावित

उत्तर

उत्तर प्रदेश में जनवरी के आखिरी हफ्ते में चरम पर पहुंचेगी तीसरी लहर

आईआईटी प्रोफेसर ने दावा किया है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट इम्युनिटी को बाईपास कर रहा है.ऐसे लोग जो वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं वह भी ?

    देश में कोरोना के ओमीक्रान वेरिएंट का कहर लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है. देश और उत्तर प्रदेश में आने वाले दिनों में इसका प्रकोप और भी तेजी से बढ़ेगा.यह कहना है आईआईटी के प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल का.आईआईटी प्रोफेसर ने दावा किया है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट इम्युनिटी को बाईपास कर रहा है.ऐसे लोग जो वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं वह भी संक्रमित हो रहे हैं.हालांकि यह उन लोगों के लिए ज्यादा घातक साबित हो रहा है जिन्होंने वैक्सीन की एक भी डोज नही लगवाई हैं.उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में जनवरी के आखिरी सप्ताह में कोरोना संक्रमण पीक पर होगा.जबकि दिल्ली और मुम्बई में 15 जनवरी तक मामले पीक पर होंगे.देश में कोरोना जनवरी के आखिरी सप्ताह में पीक पहुंचेगा.इस वक्त 8 से 9 लाख संक्रमण के मामले रोजाना सामने आ सकते हैं. प्रो अग्रवाल के मुताबिक, चुनाव से कोई फर्क नहीं पड़ेगा. इसके पहले भी पांच राज्यों में चुनाव थे तब नहीं फैला. जिन राज्यों में चुनाव हुआ था और दूसरे राज्यों में संक्रमण में बहुत अंतर नहीं था.उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से डरने के बजाए जागरुक होनें की आवश्यक्ता है.लोग भीड़ में जाएं तो मास्क जरूर लगाएं. ओमीकॉन के संक्रमण में 4-5 फीसदी लोगों को ही अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ रही है.

    उत्तर प्रदेश के लिए घातक साबित हो सकती है तीसरी लहर
    उन्होंने बताया कि प्रदेश में में जिस हिसाब से केस बढ़ रहे है वो आने वाले समय में घातक साबित हो सकता है.जैसे साउथ अफ्रीका में देखने को मिले था वैसे भारत में देखने को नहीं मिल रहा है.यहां यह उन लोगों में भी संक्रमण फैला रहा है जिनको वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है. वहीं, जिस तरह से लोग कोरोना की गाइडलाइन्स का पालन नहीं कर रहे है उसे देखते हुए यह घातक साबित हो सकता है.

    जनवरी के आखिरी हफ्ते प्रदेश के लिए सबसे ख़तरनाक
    प्रो अग्रवाल ने बताया, यूपी में जनवरी के आखिरी हफ्ते में कोरोना की तीसरी लहर पीक पर रहेगी. उन्होंने कहा कि यूपी का पूरा डाटा मेरे पास अभी तक नहीं आया है लेकिन जो मेरा आकलन कह रहा है कि उस हिसाब से यहां केस बढ़ेंगे.जिस तरह से लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं वो आने वाले समय में घातक हो सकता है.लेकिन इससे बचा भी जा सकता है अगर लोग कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करें.

    ओमीक्रोन का संक्रमण हल्का है, लेकिन घातक हो सकता है
    प्रो मणींद्र अग्रवाल ने तीसरी लहर को लेकर जो भी आकड़े निकले उसे देखते हुए कोई भी जागरूक नहीं लग रहा है.जिस तेजी से यह भारत में फैल रहा है उसे देखते हुए यह ज्यादा से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर सकता है. प्रो अग्रवाल की माने तो जिन लोगों ने एक भी डोज नहीं लगवाई है उनको ज्यादा सावधानी बरतनी होगी.अभी भी देश और प्रदेश में कई लोगों ऐसे है जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई है.

    देश में रोजाना मिलेंगे 8 से 9 लाख नए संक्रमित
    प्रो अग्रवाल ने बताया कि जिस तरह से ओमीक्रान के केस बढ़ रहे है,ऐसे में कहा जा सकता है कि देश के साथ-साथ यूपी में भी केस बढ़ेंगे. देश के डाटा के हिसाब से रोजाना 8 से 9 लाख नए संक्रमित सामने आएंगे.

    दिल्ली और मुंबई में 15 जनवरी तक तीसरी लहर
    प्रो मणींद्र अग्रवाल के मुताबिक दिल्ली और मुंबई में 15 से 16 जनवरी तक तीसरी लहर के चरम पर पहुंचने की आशंका है.इस दौरान मुंबई से अधिक केस दिल्ली में मिलेंगे. दिल्ली में जहां रोजाना 70 हजार केस सामने आएंगे. तो वहीं मुंबई में रोजाना 60 हजार नए संक्रमितों की संख्या में इजाफा होगा.

    (रिपोर्ट आलोक तिवारी)

    Tags: COVID 19, Iit kanpur, Kanpur news, Omicron, Third Wave

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर