अपना शहर चुनें

States

कानपुर में बोले अमित शाह- बीजेपी के खिलाफ नहीं भ्रष्टाचार के लिए हुआ सपा-बसपा गठबंधन

कानपुर के रेलवे मैदान में बोलते हुए, उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी की बढ़ती हुई लोकप्रियता और मोदी जी के राजनीतिक प्रसार प्रचार को रोकने के लिए ये गठबंधन बना है.

  • Share this:
कानपुर और बुंदेलखंड क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों और पदाधिकारियों के साथ 'बूथ जीतो, यूपी जीतों' कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को सपा-बसपा गठबंधन और कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला किया. यूपी से 74 सीटों को जीतने का दावा करने के साथ ही अमित शाह ने कहा कि यह गठबंधन बीजेपी के खिलाफ नहीं है. यह गठबंधन भ्रष्टाचार के लिए है.

कानपुर के रेलवे मैदान में बोलते हुए, उन्होंने कहा, "भारतीय जनता पार्टी की बढ़ती हुई लोकप्रियता और मोदी जी के राजनीतिक प्रसार प्रचार को रोकने के लिए ये गठबंधन बना है. यूपी के विधानसभा चुनाव से पहले भी यहां यूपी के दो लड़कों का गठबंधन हुआ था और 2019 से पहले भी यहां गठबंधन हुआ है. जो गठबंधन बीजेपी के खिलाफ हुआ है वो भ्रष्टाचार का गठबंधन है. पूरा जीवन इनका यूपी को पीछे धकेलने और यूपी के विकास को रोकने में निकल गया. जिसे भी एकत्रित होना है हो जाए यहां बीजेपी के कार्यकर्ता 50 फीसदी की लड़ाई लड़ने को तैयार हैं. मुझे पता है कि यहां कार्यकर्ता जब योगी जी और पाण्‍डेय जी के नेतृत्व में निकलेंगे तो भारत मां की जयकारे का साथ दिल्ली लौटेंगे.

EXCLUSIVE: सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा- गठबंधन से बीजेपी नेताओं का मानसिक संतुलन बिगड़ा



बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, "हमारे फोर बी हैं बढ़ता भारत, बनता भारत लेकिन उनके ठगबंधन में फोर बी हैं बुआ, बबुआ, भाई और बहन." अमित शाह ने कहा, " 2014 में चुनाव अभियान की शुरुआत कानपुर से की गई थी और हम जीतकर दिल्ली पहुंचे थे. एक बार फिर से यहां के बूथ स्तर से शुरुआत हो रही है. मैं उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं से जब भी मिलता हूं तो मन खुश हो जाता है. मैं यूपी के कार्यकर्ताओं की शक्ति को पहचानता हूं. मैं इनकी ताकत के बारे भली-भांति जानता हूं."
उन्होंने कहा, "उत्तर प्रदेश ने तुष्टीकरण की राजनीति, भ्रष्टाचार, गुंडों का नंगा नाच, जात-पात देखा है. जिसे कभी भूला नहीं जा सकता है: कानून-व्यवस्था को सही करने की राजनीति और भ्रष्टाचार पर पाबंदी का काम यूपी की योगी सरकार कर रही है. ये सरकार किसी एक जाति की नहीं है, जिन जातियों के पास संख्या नहीं थी वो विकास से महरूम रह जाती थीं, लेकिन बीजेपी सरकार में सभी को उनका हक मिल रहा है. भारतीय जनता पार्टी ने जात-पात की राजनीति को खत्म करने का काम किया है."

अयोध्या विवाद में केंद्र की सुप्रीम कोर्ट में याचिका गलत सरकारी हस्तक्षेप: मायावती

गठबंधन पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा, "हमारी तरफ से तो तय है कि एनडीए की तरफ से मोदी जी प्रधानमंत्री पद के लिए हैं, लेकिन गठबंधन की सरकार में कौन होंगे प्रधानमंत्री. अगर गठबंधन सरकार बनती है तो सोमवार को बहनजी प्रधानमंत्री होंगी, मंगलवार को अखिलेशजी, बुधवार को ममता जी, गुरुवार को शरद पवार जी होंगे, शुक्रवार को देवगौड़ा, शनिवार को स्टालिन बन जाएंगे और रविवार को देश छुट्टी पर चला जाएगा."

हमें अयोध्या के गैर विवादित भूमि पर तत्काल निर्माण की अनुमति मिलनी चाहिए: योगी

उन्होंने कहा, "पहले सीमा पार से हमला हुआ करता था तो सरकार कुछ नहीं कर पाती थी, लेकिन यूपी की जनता द्वारा बनाई गई सरकार के दौरान जब उरी पर हमला हुआ तो सेना के जवानों ने पाकिस्तान में घुस कर सर्जिकल स्ट्राइक किया. पहले केवल दो ही देश थे अमेरिका और इस्रायल जो अपने जवानों का बदला लेते थे, लेकिन अब उनकी सूची में तीसरा नाम हमारे महान भारत देश का भी बढ़ गया है."

राम मंदिर विवाद: 67 एकड़ जमीन वापस करने की अपील, इस ताजा कदम के क्या हैं मायने

राम मंदिर के मुद्दे पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि श्रीराम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर कांग्रेस को कुछ भी बोलने का हक़ नहीं है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग फैसला आने में रोड़ा अटका रहे हैं. लेकिन बीजेपी राम मंदिर निर्माण को लेकर कृत संकल्प है. यही वजह है कि सरकार ने गैर विग्वादित जमीन को रामजन्मभूमि न्यास को सौंपने की मांग की है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज