लाइव टीवी

नशे में टल्ली युवक को लोगों ने पीटा और वो कहता रहा 'मैं चोर नहीं शराबी हूं'

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 14, 2020, 7:46 PM IST
नशे में टल्ली युवक को लोगों ने पीटा और वो कहता रहा 'मैं चोर नहीं शराबी हूं'
शराबी को चोर समझ लोगों ने खूब पीटा (प्रतीकात्मक फोटो)

शराबी व्यक्ति (drunken person) ने पुलिस (kanpur police) को पूछताछ में बताया कि वो एक प्राइवेट कंपनी (private company) में काम करता है और कल ही उसको तनख्वाह मिली थी और उसने शराब पी ली. जिसके बाद वो कल्याणपुर थाना क्षेत्र में नशे की हालत में घूम रहा था कि अचानक उसे एक घर का दरवाजा खुला दिखाई दिया. नशे में उसे समझ नहीं आया...

  • Share this:
कानपुर. शराब (Liqueur) का नशा कानपुर जनपद (Kanpur district) में एक प्राइवेट कंपनी में काम करने वाले शख्स को उस समय भारी पड़ गया जब लोगों ने उसे चोर समझ कर उसकी जमकर धुनाई कर दी. पिटते समय भी शराबी शख्स लोगों से गुहार लगाता रहा कि 'मैं चोर नहीं शराबी हूं'. मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से उसे भीड़ के चंगुल से बचाया और पुलिस चौकी लेकर आई जहां पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया.

सैलरी मिली थी तो पी ली शराब फिर हुआ ये...
यह पूरा वाकया कानपुर जनपद के कल्याणपुर इलाके का है जहां के रहने वाले एक व्यक्ति का आरोप है कि उसने इस शख्स को अपने घर से निकलते देखा और उसे पकड़ा जिसके बाद चोर समझ के उसकी खूब पिटाई हुई हालांकि पिटने के दौरान भी शराब के नशे में टल्ली व्यक्ति लोगों से बार-बार यह कहता रहा कि 'वह चोर नहीं है नशे में है इसलिए गलती हो गई'. लेकिन लोगों ने उसकी एक नहीं सुनी. मौके पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ की तो एक प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक वह अपने घर से बाहर गया हुआ था और जैसे ही घर वापस लौटा तो इस अजनबी व्यक्ति को घर से बाहर निकलता हुआ देखा. संदिग्ध लगने पर उसने उसे पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी साथ ही वहां जुटी भीड़ ने भी उसको खूब पीटा.

kanpur police
मौके पर पहुंची पुलिस ने शराबी को लोगों से छुड़ाया


शराबी व्यक्ति ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वो एक प्राइवेट कंपनी में काम करता है और कल ही उसको तनख्वाह मिली थी और उसने शराब पी ली जिसके बाद वो कल्याणपुर थाना क्षेत्र में नशे की हालत में घूम रहा था कि अचानक उसे एक घर का दरवाजा खुला दिखाई दिया. नशे में उसे समझ नहीं आया और वो उसकी कुंडी बंद करने पहुंच गया. शराबी के मुताबिक जैसे ही वह कुंडी लगाकर बाहर लौटा तो लोगों ने उसे चोर समझ लिया और चोर-चोर चिल्लाने लगे फिर क्या था पुकार सुन के आस-पास मौजूद लोगों और राहगीरों ने उसे पीट डाला कोई भी उसकी बात सुनने को तैयार नहीं था. सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह उसे बचाया और नजदीकी पुलिस चौकी पर ले गए जहां पिटाई के बाद उसका नशा तो काफूर हो ही चुका था. पूछताछ के दौरान उसने अपना परिचय बताया फिर पुलिस ने उसके परिजनो को बुलाया गया और पूछताछ के बाद संतुष्ट होने के बाद कि वो अपराधी नहीं है पुलिस ने उसे हिदायत देकर छोड़ दिया.​

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग की तर्ज पर प्रयागराज में मुस्लिम महिलाओं ने CAA-NRC के खिलाफ संभाली मोर्चे की कमान...
मकर संक्रांति विशेष: नेपाल की सुख-शांति के लिए गोरखनाथ को चढ़ाई जाती है खिचड़ी, जानिये क्या है पूरी कहानी....

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 7:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर