Home /News /uttar-pradesh /

IT Raid: सपा MLC पुष्पराज जैन के ठिकानों से आयकर विभाग को अब तक क्या-क्या मिला? जानें डिटेल

IT Raid: सपा MLC पुष्पराज जैन के ठिकानों से आयकर विभाग को अब तक क्या-क्या मिला? जानें डिटेल

इत्र कारोबारी पुष्पराज उर्फ पम्पी जैन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के करीबी बताए जाते हैं. उन्होंने हाल ही में समाजवादी इत्र लॉन्च किया था. (फाइल फोटो)

इत्र कारोबारी पुष्पराज उर्फ पम्पी जैन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के करीबी बताए जाते हैं. उन्होंने हाल ही में समाजवादी इत्र लॉन्च किया था. (फाइल फोटो)

Pushraj Jain IT Raid: इत्र कारोबारी पुष्पराज उर्फ पम्पी जैन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के करीबी बताए जाते हैं. उन्होंने हाल ही में समाजवादी इत्र लॉन्च किया था, जो इन दिनों आयकर विभाग के छापों के बाद से काफी चर्चा में है. पुष्पराज जैन के ठिकानों पर शुक्रवार 31 दिसंबर को आयकर विभाग ने छापेमारी की थी. जिस दिन यह छापेमारी हुई उसी दिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज में जैन के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे.

अधिक पढ़ें ...

    कानपुर. कन्नौज के प्रसिद्ध इत्र कारोबारी और समाजवादी पार्टी के एमएलसी पुष्पराज जैन (Pushpraj Jain) के ठिकानों पर आयकर विभाग (IT Raid) की जांच पड़ताल अभी जारी है. इस छापेमारी में आयकर विभाग को मिली नकदी और दूसरे सामानों का विवरण सामने आया है. प्राप्त जानकारी जानकारी के मुताबिक पुष्पराज जैन के घर और फैक्ट्री से आयकर विभाग की टीम को 2.5 करोड़ रुपये की नकदी, 60 लाख रुपये कीमत की चांदी और करीब 30 लाख रुपये का सोना मिला है. इसके अलावा कोलकाता की एक शेल कंपनी से 10 करोड़ के लेन-देन का मामला भी सामने आया है. बता दें कि इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन को लेकर आईटी विभाग की टीम अभी जांच पड़ताल में जुटी हुई है.

    इत्र कारोबारी पुष्पराज उर्फ पम्पी जैन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के करीबी बताए जाते हैं. उन्होंने हाल ही में समाजवादी इत्र लॉन्च किया था, जो इन दिनों आयकर विभाग के छापों के बाद से काफी चर्चा में है. पुष्पराज जैन के ठिकानों पर शुक्रवार 31 दिसंबर को आयकर विभाग ने छापेमारी की थी. जिस दिन यह छापेमारी हुई उसी दिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज में जैन के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे.

    ये भी पढ़ें- कोरोना के चलते यूपी में स्कूल, जिम और शादी तक के लिए नई गाइडलाइन जारी, जानें सबकुछ

    बता दें कि सबसे पहले इत्र कारोबारी पीयूष जैन के कानपुर से लेकर कन्नौज स्थित घरों में छापेमारी हुई थी और डीजीजीआई की टीम ने करीब 197 करोड़ रुपये कैश और 23 किलो सोना बरामद किया था. पीयूष जैन पर कार्रवाई के दौरान ही पुष्पराज जैन का नाम उछल रहा था. पीयूष जैन को गिरफ्तार किए जाने के बाद ही पुष्पराज जैन भी आयकर विभाग की रडार पर आ गए और उनके कन्नौज स्थित घर में छापेमारी हो गई.

    Tags: Income tax, IT Raid, Kanpur news, Samajwadi party

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर