Home /News /uttar-pradesh /

IT Raid: तंबाकू से भरे 4 ट्रकों की कहानी जिसने बताया पीयूष जैन के खजाने का पता, जानें क्या था ये पूरा मामला

IT Raid: तंबाकू से भरे 4 ट्रकों की कहानी जिसने बताया पीयूष जैन के खजाने का पता, जानें क्या था ये पूरा मामला

पीयूष जैन के आवास पर छोपेमारी के साथ ही करोड़ाें के खजाने का राज परत दर परत खुलता गया. (फाइल फोटो)

पीयूष जैन के आवास पर छोपेमारी के साथ ही करोड़ाें के खजाने का राज परत दर परत खुलता गया. (फाइल फोटो)

Raid On Piyush Jain: डायरेक्ट्रेड जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस की एक छोटी सी कार्रवाई ने पीयूष जैन के काले धन का राज फाश कर दिया. एक के बाद एक कड़ियां जुड़ती गईं और सामने आया 195 करोड़ नकद और कई किलो सोने का सच. जानिए कैसे आखिर पीयूष जैन की काली कमाई का खुलासा कर सके अधिकारी. ‌

अधिक पढ़ें ...

    कानपुर. अचानक सुर्खियों में आया एक नाम पीयूष जैन, इसी नाम के साथ जुड़ा काली कमाई के करोड़ाें रुपये और कई किलो सोने का सच. इतना नकद मिला कि कार्रवाई 36 घंटों तक चली, डीजीजीआई (DGGI) और आयकर विभाग के अधिकारी नोट गिनते गिनते थक गए. नोट गिनने की मशीनें भी हांफ गईं. अब बड़ा सवाल ये है कि पीयूष जैन आयकर विभाग और डीजीजीआई के रडार पर आया कैसे. क्योंकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वो बड़ी लो प्रोफाइल जिंदगी ही जी रहा था, स्कूटर पर चलता था और घर में एक हैचबैक कार थी. तो इस बात का खुलासा किया डीजीजीआई ने. डायरेक्ट्रेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस ने प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि कैसे ये पूरा मामला परत दर परत खुलता गया और एक छोटी सी कार्रवाई के चलते पीयूष जैन पकड़ में आया.

    4 ट्रकों ने बना दिया फंदा
    दरअसल, डीजीजीआई ने ये कार्रवाई 4 ट्रकों में भरे तंबाकू और पान मसाले का जीएसटी न देने के मामले में शुरू की थी. ये ट्रक गणपति रोड कॅरियर के थे और इसी के जरिए डीजीजीआई के अधिकारी शिखर पान मसाले की फैक्ट्री तक पहुंच गए. यहां पर अधिकारियों को लगा कि ये कार्रवाई बड़ी होने वाली है क्योंकि गणपति रोड कॅरियर के नाम से उन्हें 200 से ज्यादा फर्जी इनवाइस मिलीं लेकिन उस समय तक भी अधिकारियों को इस बात की भनक नहीं थी कि ये मामला कुछ करोड़ का नहीं कई सौ करोड़ का निकलेगा.

    income tax raid, piyush jain, DGGI, gst, kanpur, kannauj, up news, shikhar gutkha, cash confiscated, gold, silver, raid on piyush jain, hindi news आयकर विभाग की छापेमारी, पीयूष जैन, डीजीजीआई, जीएसटी, कानपुर, कन्नौज, उत्तर प्रदेश न्यूज, शिखर गुटखा, करोड़ाें रुपये नकद बरामद, सोना, चांदी, पीयूष जैन पर छापा, हिंदी न्यूज

    DGGI की ओर से जारी की गई प्रेस रिलीज के कुछ अंश.

    फिर शुरू हुआ खेल
    इस पूरी कार्रवाई के दौरान शिखर गुटखे के निर्माताओं ने माना कि कि उन पर टैक्स बकाया है और उन्होंने 3.09 करोड़ रुपये को जमा करवा दिया. इसी दौरान अधिकारियों के सामने शिखर गुटखे के एक और पार्टनर का नाम सामने आया ओडोकैम इंडस्ट्रीज. यहीं से शुरू हुई पीयूष जैन की कहानी. पीयूष जैन ओडोकैम इंडस्ट्रीज का मालिक है और इसी के चलते अधिकारियों ने कंपनी के कानपुर स्थित रजिस्टर्ड एड्रेस पर छापेमारी की कार्रवाई की. ये छापा था आनंदपुरी स्थित पीयूष जैन के घर पर. डीजीजीआई की प्रेस रिलीज के अनुसार इसी घर से अधिकारियों को 177.45 करोड़ रुपये नकद बरामद हुए. ये अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई थी.

    और मिलता गया खजाने से खजाने का पता
    इसके बाद अधिकारियों ने कन्नौज स्थित पीयूष जैन की फैक्ट्री और आवास पर छापेमारी की. फैक्ट्री से अधिकारियों को 17 करोड़ रुपये नकद बरामद हुए जिनकी गिनती अभी जारी है. इसके साथ ही 23 किलो सोना और 600 किलो चंदन का तेल जिसकी कीमत करीब 6 करोड़ रुपये है बरामद किया. चौंकाने वाली बात थी कि ये सभी कुछ एक अंडरग्राउंड टंकी में छुपाया गया था.

    Tags: Income tax raid, Piyush Jain house raided

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर