चीन के हमले में भारतीय सैनिकों की शहादत पर कानपुर से लेकर वाराणसी तक आक्रोश, चाइनीज आइटमों की जलाई होली
Kanpur News in Hindi

चीन के हमले में भारतीय सैनिकों की शहादत पर कानपुर से लेकर वाराणसी तक आक्रोश, चाइनीज आइटमों की जलाई होली
वाराणसी में चीन के विरोध में सड़कों पर उतरे लोग

India-China Rift: चीन के इस कायराना कृत्य के विरोध में सड़कों पर उतरे और चाइनीज आइटमों की होली जलाई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 17, 2020, 10:54 AM IST
  • Share this:
कानपुर/वाराणसी/प्रयागराज. भारत-चीन सीमा विवाद (India-China Dispute) में लद्दाख के गलवान घाटी में 20 भारतीय सैनिकों (Indian Army) की शहादत पर यूपी के कई जिलों में आक्रोश देखने को मिल रहा है. वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर में लोगों ने चीन के इस कायराना कृत्य के विरोध में सड़कों पर उतरे और चाइनीज आइटमों (Chinese Items) की होली जलाई. साथ ही व्यापारियों ने भी चीन के सामानों का बहिष्कार करने की अपील की. लोगों ने भारत सरकार से भारतीय सैनिकों की शहादत का बदला लेने और चीन को सबक सिखाने की मांग भी उठाई है.

कानपुर के यशोदा नगर में व्यापारियों ने चीन के हमले का विरोध किया. भारत-चीन विवाद में देश के जवानों की शहादत पर लोगों में आक्रोश देखने को मिल रहा है. आक्रोशित लोगों ने चीनी समान का बहिष्कार भी शुरू कर दिया है. चीन के इस हमले के खिलाफ आक्रोशित लोगों ने चाइनीज उपकरणों को तोड़कर जला दिया और सरकार से 20 जवानों की शहादत का बदला लेने की मांग की.

चीन का सामान न बेचने का प्रण
पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी लोगों में गुस्सा देखने को मिला. मंगलवार की रात को वाराणसी में अर्दली बाजार के व्यापारी, नागरिक और अधिवक्ता आंदोलित हो गए. लोगों चाइना के बने सामानों की होली जलाने के लिए अर्दली बाजार तिराहे पर एकत्रित हो गए. यहां पर बहुत बड़ी संख्या में चीनी सामानों की होली जलाई गई और ये प्रण लिया गया कि अब न तो चीन का सामान बेचेंगे और ना ही खरीदेंगे. साथ ही काशी की जनता ने अपने प्रतिनिधि व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को भी संदेश दिया, कहा कि पूरा राष्ट्र उनके साथ है वे चीन को सबक सिखाएं.
एक के बदले दस चीनी सैनिकों के सिर लाने की मांग


प्रयागराज में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को रानी मंडी इलाके में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला फूंका. प्रदर्शन करते हुए नेताओं ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि एक के बदले दस चीनी सैनिकों के सिर लाए जाएं, तभी चीन गुस्ताखी से बाज आएगा. इसी क्रम में सुभाष चौराहे पर कांग्रेस नेताओं ने भी चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया.

ये भी पढ़ें:

UP: अब गाड़ी ड्राइव करते वक्त मोबाइल पर बात करना पड़ेगा भारी, देना होगा इतना जुर्माना

धर्मेंद्र यादव के बाद अब सपा विधायक हुए Corona संक्रमित, जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज