IPS सुरेंद्र दास की हालत और बिगड़ी, कानपुर रवाना हुए डीजीपी

बता दें, कानपुर में भर्ती एसपी सुरेंद्र दार की हालत में कोई सुधार नहीं आ रहा है. मुंबई से डॉक्टर प्रणव ओझा की टीम उनकी जांच कर रही है. उनके शरीर में दिल और फेफड़े ठीक ढंग से काम नहीं कर रहे हैं.

Shyam Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 8, 2018, 2:51 PM IST
IPS सुरेंद्र दास की हालत और बिगड़ी, कानपुर रवाना हुए डीजीपी
आईपीएस सुरेन्द्र दास
Shyam Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 8, 2018, 2:51 PM IST
कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में बीते 4 दिनों से भर्ती आईपीएस सुरेंद्र दास की हालत शनिवार दोपहर और बिगड़ गई. उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया है. एक पैर में ब्लड की सप्लाई भी नहीं हो रही है.उधर, जानकारी मिलते ही डीजीपी ओपी सिंह कुछ ही देर में आईपीएस को देखने कानपुर पहुंचे वाले हैं. डॉक्टरों के मुताबिक आज का दिन उनके लिए काफी अहम होगा. वहीं किडनी और लीवर ने पूरी तरह काम करना बंद कर दिया है. रीजेंसी अस्पताल के सीएमएस राजेश अग्रवाल ने बताया कि गंभीर हालत को देखते हुए तत्काल ऑपरेशन की तैयारी की जा रही है. परिवारजनों को इसकी जानकारी दे दी गई है, क्योकि ऑपरेशन के दौरान कुछ भी परिणाम सामने आ सकते हैं. फिलहाल हालत बेहद नाजुक बनी हुई हैं.

बता दें, कानपुर में भर्ती एसपी सुरेंद्र दार की हालत में कोई सुधार नहीं आ रहा है. मुंबई से डॉक्टर प्रणव ओझा की टीम उनकी जांच कर रही है. उनके शरीर में दिल और फेफड़े ठीक ढंग से काम नहीं कर रहे हैं. कानपुर के एसएसपी अनन्त देव तिवारी ने बताया कि डीजीपी जाजमऊ से सड़क मार्ग से होते हुए वीआईपी रोड से सीधे रीजेंसी हॉस्पिटल पहुंचेंगे. दोपहर 3 बजे तक डीजीपी के शहर पहुंचने की जानकारी है. इसके लिए एसपी ट्रैफिक की तरफ से सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर ली गईं हैं.

रीजेंसी अस्पताल के सीएमएस राजेश अग्रवाल


गौरतलब है कि एसपी सिटी आईपीएस सुरेंद्र दास आत्महत्या मामले में पुलिस ने मौके से सुसाइड नोट बरामद किया था. सुसाइड नोट में आईपीएस अधिकारी ने पारिवारिक कारण और निजी तनाव का हवाला दिया है. सुसाइड नोट हिंदी और अंग्रेज दोनों में लिखा गया है. पुलिस ने सुसाइड नोट को फोरेंसिक जांच और हैंडराइटिंग से मैच के लिए भेजा गया है. पुलिस की शुरुआती पूछताछ में पत्नी के साथ झगड़े की बात सामने आई है.

ये भी पढ़ें:

अखिलेश ने ट्वीट कर सीएम योगी को याद दिलाया राजधर्म!

इनसाइड स्टोरी, आखिर क्यों यूपी में IPS रैंक के अधिकारी करते हैं सुसाइड?

हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व अध्यक्ष सुनील सिंह होंगे लखनऊ जेल में शिफ्ट

 

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर