लाइव टीवी

कानपुर: CAA हिंसा के दौरान लगी गोली दो महीने से शरीर में है फंसी, हैलट में हुआ था ऑपरेशन
Kanpur News in Hindi

Amit Ganjoo | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 26, 2020, 11:15 AM IST
कानपुर: CAA हिंसा के दौरान लगी गोली दो महीने से शरीर में है फंसी, हैलट में हुआ था ऑपरेशन
शान मोहम्मद को लगी गोली को हैलट में ऑपरेशन कर निकाला गया था.

बाबूपुरवा निवासी 20 वर्षीय शान मोहम्मद सहित 10 लोगों को पुलिस ने हैलट अस्पताल में भर्ती कराया था. उसी दिन डॉक्टरों ने शान मोहम्मद का आपरेशन किया था और 26 दिसम्बर को डिस्चार्ज कर दिया था.

  • Share this:
कानपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में बाबूपुरवा मे हुई हिंसा में घायलों के इलाज में हैलट अस्पताल प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आयी है. हिंसा के दौरान गोली लगने से घायल हुए शान मोहम्मद को डॉक्टरों ने बगैर गोली निकाले ही अस्पताल से छुट्टी दे दी. उसके बाएं कंधे व सीने के बीच पिछले दो महीने से गोली फंसी हुई है.

एक्स-रे में हुआ खुलासा

इस बात का पता चला जब इंफेक्शन फैलाने पर शान मोहम्मद ने एक्स-रे कराया. दरअसल, 20 दिसम्बर को बाबूपुरवा में हुई हिंसा के दौरान तीन लोगों की गोली लगने मौत हो गई थी. जबकि 10 अन्य लोग गोली लगने से घायल हुए थे. बाबूपुरवा निवासी 20 वर्षीय शान मोहम्मद सहित 10 लोगों को पुलिस ने हैलट अस्पताल में भर्ती कराया था. उसी दिन डॉक्टरों ने शान मोहम्मद का आपरेशन किया था और 26 दिसम्बर को डिस्चार्ज कर दिया था.



हैलट में गोली निकालने के लिए हुआ था ऑपरेशन



शान मोहम्मद का कहना है कि करीब 10 दिन पहले घाव बढ़ने के साथ ही इंफेक्शन फैलने लगा. इस पर उन्होने उर्सला अस्पताल में डॉक्टरों को दिखाया. डॉक्टरों ने एक्स-रे करने को कहा. जब एक्सरे की रिपोर्ट आयी तो डॉक्टरों ने बताया कि कंधे के पास गोली फंसी हुई है. शान मोहम्मद के परिजनो का कहना है कि गोली फंसे होने की बात कह कर डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया था. अब उनके समझ में नहीं आ रहा है कि यह गोली कहां से आ गई.

परिजनों की मांग गोली की हो जांच

परिजनो का कहना है कि हैलट अस्पताल से न ही कोई जांच रिपोर्ट और न ही इलाज सम्बंधी कोई दस्तावेज उन्हें दिये गये. लिहाजा पता ही नहीं चल सका कि गोली आर-पार दिखायी गयी थी या धंसी हुई. परिजनों ने शाम मोहम्मद की शरीर में फंसी गोली की जांच की मांग की है. ताकि पता चल सके कि गोली पुलिस की बंदूक से लगी है या किसी और के.

SIT के मुताबिक फरार है शान मोहम्मद

वहीं बाबूपुरवा पुलिस का कहना है कि हिंसा के मामले में हत्या समेत अन्य मामलो मे दर्ज की गयी रिपोर्ट मे शान मोहम्मद को भी आरोपी बनाया गया है और एसआईटी के मुताबिक वह वर्तमान मे फरार चल रहा है. वहीं एसएसपी आनंत देव तिवारी का कहना है कि मामले की जांच एसआईटी कर रही है. परिजन उनके सामने अपने तथ्य रख सकते हैं.

उधर मेडिकल कॉलेज की प्रिंसपल आरती लाल चंदानी का कहना है कि फिलहाल मामला उनकी जानकारी में नहीं है. मामले को दिखवाया जायेगा औऱ देखा जायेगा कि इस तरह कैसे ऑपरेशन होने के बाद भी गोली नहीं निकल पाई.

ये भी पढ़ें:

मथुरा: बहुचर्चित डॉक्टर अपहरण कांड का खुलासा, 1 लाख का इनामी बदमाश रीगल अरेस्ट

लखनऊ: महिलाओं को नहीं होना पड़े शर्मिंदा, पब्लिक प्लेस पर मिलेंगे पिंक टायलेट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2020, 11:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading