• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • कानपुर: बहू के कमरे में बिना मास्क लगाए घुसना सास-ससुर व ननद को पड़ा भारी, मुकदमा दर्ज

कानपुर: बहू के कमरे में बिना मास्क लगाए घुसना सास-ससुर व ननद को पड़ा भारी, मुकदमा दर्ज

जूही थाणे में घरेलू हिंसा व महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है.

जूही थाणे में घरेलू हिंसा व महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है.

मामला कानपुर (Kanpur) जनपद के जूही थाना क्षेत्र का है, जहां की रहने वाली दीपिका गुप्ता ने अपने ससुराल वालों पर घरेलू हिंसा के साथ महामारी एक्ट का केस दर्ज कराया है.

  • Share this:
कानपुर. कोरोना काल (COVID-19 Pandemic) में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) व मास्क पहनने को लेकर कई अजीबो-गरीब मामले देखने और सुनने में आ रहे हैं. लेकिन यह अपने तरह का पहला मामला है, जिसमें ससुरालवालों को बिना मास्क लगाए बहू के कमरे में जाना भारी पड़ गया. बहू ने अपने सास-ससुर व ननद के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है. मामला कानपुर (Kanpur) जनपद के जूही थाना क्षेत्र का है, जहां की रहने वाली दीपिका गुप्ता ने अपने ससुराल वालों पर घरेलू हिंसा के साथ महामारी एक्ट का केस दर्ज कराया है.

एसएसपी दिनेश कुमार के अनुसार, अपने तरीके का यह पहला केस जूही थाने में दर्ज कराया गया था. पीड़िता का आरोप है कि बिना मास्क लगाए सास, ससुर और उसकी ननद उनके कमरे में घुसे और उससे मारपीट की. आरोप है कि उन्होंने न तो शारीरिक दूरी का पालन किया और न ही किसी ने मास्क लगाया था. कोरोना संक्रमण के प्रति बहू की जागरुकता भरी दलील सुनकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार भी हैरान रह गए. ससुराल वालों पर घरेलू हिंसा के साथ महामारी एक्ट के तहत सोमवार देर रत मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया. जिले में इस तरह का यह पहला मामला है. उधर, ससुराल वालों ने भी बहू पर धमकाने का मुकदमा दर्ज कराया है.

बहू का ये है आरोप
जूही थाना क्षेत्र के बसंती नगर निवासी दीपिका गुप्ता ने रविवार को यह शिकायत पुलिस अधिकारियों से की कि उसने कुछ दिन पहले ससुराल वालों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न में मुकदमा लिखाया था. इसके बाद से ही ससुराल वाले केस वापस लेने के लिए दबाव बना रहे थे. पति विरोध करते तो उनके साथ भी मारपीट की जाती. 27 जून की सुबह जब वह अपने कमरे में थी, तभी सास रीता गुप्ता, ससुर अनिल गुप्ता व ननद एकता श्रीवास्तव, ननदोई सत्य प्रकाश अपने बेटे आदित्य व बेटी सौम्या के साथ कमरे में घुस आए. जिसके बाद सभी ने केस वापस लेने का दबाव बनाया. साथ ही जान से मारने की धमकी दी और डंडों से पीटा भी. सभी ने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया. न तो शारीरिक दूरी का ख्याल रखा गया और न ही किसी ने मास्क पहना हुआ था.

जांच में जुटी पुलिस
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार ने बताया कि घरेलू हिंसा के साथ महामारी एक्ट के उल्लंघन का यह मामला सामने आया है. मारपीट के साथ महामारी अधिनियम के तहत भी मुकदमा दर्ज किया गया है और जांच की जा रही है. नियम कानून तोड़ने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज